NDTV Khabar

PM मोदी ने तमिलनाडु की तरह कर्नाटक में भी किया गर्वनर ऑफिस का दुरुपयोग: स्‍टालिन

कर्नाटक में बिना बहुमत के बीजेपी नेता बीएस येदियुरप्‍पा को मुख्‍यमंत्री पद की शपथ दिलाए जाने को लेकर तमिलनाडु के डीएमके नेता एम के स्‍टालिन ने कड़ी निंदा की है.

4K Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
PM मोदी ने तमिलनाडु की तरह कर्नाटक में भी किया गर्वनर ऑफिस का दुरुपयोग: स्‍टालिन

डीएमके नेता एम के स्‍टालिन

खास बातें

  1. कर्नाटक के राज्‍यपाल ऑफिस का दुरूपयोग किया है
  2. कर्नाटक में जो हुआ है ठीक वैसा ही ये तमिलनाडु में कर चुके हैं
  3. यह पूर्ण रूप से लोकतंत्र के खिलाफ है
नई दिल्ली: कर्नाटक में बिना बहुमत के बीजेपी नेता बीएस येदियुरप्‍पा को मुख्‍यमंत्री पद की शपथ दिलाए जाने को लेकर तमिलनाडु के डीएमके नेता एम के स्‍टालिन ने कड़ी निंदा की है. स्‍टालिन ने प्रधानमंत्री पर आरोप लगाया है कि इन्‍होंने कर्नाटक के राज्‍यपाल ऑफिस का दुरूपयोग किया है. स्‍टालिन ने संवाददाताओं से कहा कि जैसा कर्नाटक में जो हुआ है ठीक वैसा ही ये तमिलनाडु में कर चुके हैं.

निर्दलीय MLA आर शंकर कांग्रेस-JDS कैंप में लौटे, कल BJP को दी थी समर्थन की चिट्ठी 

स्‍टालिन ने कहा, 'हम सभी ने देखा कि कैसे प्रधानमंत्री ने तमिलनाडु के राज्‍यपाल ऑफिस का दुरुपयोग किया था. ठीक ऐसा ही इन्‍होंने कर्नाटक में भी किया. यह पूर्ण रूप से लोकतंत्र के खिलाफ है. मैं इसकी घोर निंदा करता हूं.'

वहीं बसपा सुप्रीमो मायावती ने कहा कि जब से बीजेपी सत्ता में आई है तब बाबा साहेब अम्बेडकर द्वारा तैयार किए गए संविधान को नष्ट करने की साजिश कर रही है. उन्‍होंने कहा कि वह सरकारी मशीनरी का दुरुपयोग कर लोकतंत्र पर हमला कर रही है.

SC में रात भर चली सुनवाई, कहा- येदियुरप्‍पा के शपथ ग्रहण पर नहीं लगा सकते रोक

टिप्पणियां
15 मई 2018 को कर्नाटक विधानसभा चुनाव परिणाम आने के बाद राज्‍य में किसी भी दल को पूर्ण बहुमत नहीं मिला. 224 विधानसभा सीट में से 222 पर चुनाव हुए और बीजेपी 104 सीटों पर जीत दर्ज कर सबसे बड़ी पार्टी के रूप में सामने आई. कर्नाटक के राज्‍यपाल वजुभाई वाला ने बीजेपी विधायक दल के नेता बीएस येदियुरप्‍पा को सरकार बनाने के लिए आमंत्रित किया. इस सूचना के बाद कांग्रेस और जेडीएस सुप्रीम कोर्ट चले गए. शपथ ग्रहण को रोकने की अपील पर रात में सुनवाई हुई और कोर्ट ने इस पर रोक लगाने से इंकार कर दिया. इसके बाद बृहस्‍पतिवार को सुबह 9:30 बजे बीएस यदियुरप्‍पा ने राज्‍य के मुख्‍यमंत्री के रूप में शपथ ग्रहण किया.

VIDEO: राज्यपाल के फैसले के खिलाफ कांग्रेस का प्रदर्शन
 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement