NDTV Khabar

Election Results 2018: विधानसभा चुनाव के नतीजों के बाद राहुल गांधी ने बताया कि उन्होंने PM मोदी से क्या सीखा

Election Results 2018: कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi)ने कहा कि 2014 के लोकसभा चुनावों में मिली करारी हार से भी उन्होंने काफी कुछ सीखा है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
Election Results 2018: विधानसभा चुनाव के नतीजों के बाद राहुल गांधी ने बताया कि उन्होंने PM मोदी से क्या सीखा

Election Results 2018: राहुल गांधी ने कांग्रेस के कार्यकर्ताओं को 'बब्बर शेर' बताया.

खास बातें

  1. राहुल ने कहा कि पीएम ने देश की धड़कन को सुनने से इनकार कर दिया
  2. राहुल गांधी ने कहा कि पीएम ने उन्हें सिखाया कि 'क्या नहीं करना चाहिए'
  3. उन्होंने कांग्रेस के कार्यकर्ताओं की जमकर सराहना की
नई दिल्ली:

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi)ने पांचों राज्यों में हुए विधानसभा चुनावों में कांग्रेस के शानदार प्रर्दशन पर कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने उन्हें सिखाया कि 'क्या नहीं करना चाहिए'. साथ ही उन्होंने कहा कि 2014 के लोकसभा चुनावों में मिली करारी हार से भी उन्होंने काफी कुछ सीखा है. राहुल ने यह भी कहा कि प्रधानमंत्री को विशाल जनादेश मिला था, लेकिन उन्होंने देश की धड़कन को सुनने से इनकार कर दिया. हिंदी भाषी राज्यों राजस्थान, मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ में कांग्रेस के फिर से उदय के बाद एक प्रेस कांफ्रेंस को संबोधित करते हुए राहुल ने कहा, ‘‘मैं कल अपनी मां से बात कर रहा था और मैं उनसे कह रहा था कि मेरे लिए सबसे अच्छी बात कुछ हुई है तो वह है 2014 का (लोकसभा) चुनाव. मैंने उस चुनाव से काफी कुछ सीखा है.'' राहुल गांधी ने कहा कि 2014 के चुनाव से उन्हें जो सबसे अहम चीज सीखने को मिली, वह ‘विनम्रता' है. उन्होंने कहा, ‘‘यह एक महान देश है और इस देश में सबसे अहम चीज है कि लोग क्या मानते हैं.'' कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि एक नेता के तौर पर यह समझना होता है कि लोग क्या महसूस कर रहे हैं और वह जिस चीज को महसूस करते हैं, उससे जुड़ाव पैदा करना होता है. 

यह भी पढ़ें: Elections Results 2018: PM मोदी ने जनादेश को स्वीकार किया, कांग्रेस को जीत पर दी बधाई


उन्होंने कहा, ‘‘बेबाकी से कहूं तो नरेंद्र मोदी जी ने मुझे सबक सिखाया कि क्या नहीं करना चाहिए.''  राहुल ने कहा, ‘‘पांच साल पहले उन्हें (मोदी को) इस देश में बदलाव लाने का बड़ा मौका दिया गया. दुखद चीज यह है कि उन्होंने देश की धड़कन सुनने से मना कर दिया.'' उन्होंने आरोप लगाया कि मोदी ने युवाओं और किसानों की आवाज सुनने से इनकार कर दिया. राहुल ने जोर देकर कहा, ‘‘थोड़ा अहंकार आ गया है. मेरा मानना है कि यह किसी नेता के लिए घातक होता है. उनके काम करने के तरीके से मैंने यह बात सीखी है. मेरे लिए इस देश के लोग ही सबसे अच्छे शिक्षक हैं.

यह भी पढ़ें: मध्य प्रदेश में 'पिक्चर अभी बाकी है', इनके पास होगी कांग्रेस की सत्ता की चाबी!

वहीं, छत्तीसगढ़ और राजस्थान में कांग्रेस के सरकार बनाने को तैयार होने और मध्य प्रदेश में कड़ी टक्कर के बीच राहुल ने कहा कि तीनों राज्यों में मुख्यमंत्रियों का चयन काफी सुगमता से किया जाएगा. उन्होंने कहा कि हमने भाजपा को मध्य प्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ में हराया है. मुख्यमंत्रियों के चयन को लेकर कोई मुद्दा नहीं रहेगा. राहुल गांधी ने यह भी कहा कि पार्टी ने चुनावों से पहले विभिन्न राज्यों में पार्टी के अंदर नेताओं के बीच तनाव को प्रभावी तरीके से दूर किया. उन्होंने कहा कि सभी नेताओं ने एकजुट होकर काम किया, जिसने पार्टी को हिन्दी पट्टी के तीन राज्यों में विजेता बनकर उभरने में मदद की. 

यह भी पढ़ें: राहुल ने बताया कि कैसे चुने जाएंगे राजस्थान, मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री

टिप्पणियां

उन्होंने कहा, ‘‘यह जीत कांग्रेस पार्टी के कार्यकर्ताओं, किसानों, युवाओं और छोटे कारोबारियों की जीत है. अब कांग्रेस पार्टी पर बड़ी जिम्मेदारी है. राहुल गांधी ने इस मौके पर कांग्रेस के कार्यकर्ताओं को बब्बर शेर करार दिया.

VIDEO: NDTV से बोले नवजोत सिंह सिद्ध, बुरे दिन जाने वाले हैं और राहुल गांधी आने वाले हैं



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement