NDTV Khabar

मुख्यमंत्री का नाम तय करने के लिए राहुल गांधी ने कार्यकर्ताओं से पूछी उनकी पसंद, जारी किया ऑडियो टेप

चुनाव परिणाम आने के बाद से ही पार्टी हाईकमान विभिन्न विकल्पों को लेकर पार्टी के अंदर ही राय-मशवरा कर रही है. इस सब के बाद भी पार्टी (Congress) बुधवार तक किसी एक नाम को लेकर अपनी राय नहीं बना पाई है.

10 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
मुख्यमंत्री का नाम तय करने के लिए राहुल गांधी ने कार्यकर्ताओं से पूछी उनकी पसंद, जारी किया ऑडियो टेप

पार्टी ने राहुल गांधी को दी जिम्मेदारी

खास बातें

  1. गुरुवार को हो सकता है नाम का ऐलान
  2. राहुल गांधी कार्यकर्ताओं से भी ले रहे हैं सलाह
  3. कांग्रेस के वरिष्ठ नेता से भी पूछ रहे हैं राहुल गांधी
नई दिल्ली:

हाल में आए विधानसभा चुनाव परिणाम (Assembly Elections Result) में बेहतर प्रदर्शन करने के बाद अब कांग्रेस (Congress) पार्टी के सामने तीनों सूबों के लिए मुख्यमंत्री चुनने की चुनौती है. चुनाव परिणाम आने के बाद से ही पार्टी हाईकमान विभिन्न विकल्पों को लेकर पार्टी के अंदर ही राय-मशवरा कर रही है. इस सब के बाद भी पार्टी (Congress) बुधवार तक किसी एक नाम को लेकर अपनी राय नहीं बना पाई है. ऐसे में अब पार्टी ने मुख्यमंत्री का नाम चुनने की जिम्मेदारी सिर्फ और सिर्फ अपने अध्यक्ष पर छोड़ दिया है. पार्टी (Congress) की तरफ से मिली जानकारी के अनुसार पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) गुरुवार को मध्यप्रदेश और राजस्थान के नए मुख्यमंत्री के नाम की घोषणा कर सकते हैं. मुख्यमंत्री के नाम की घोषणा करने से पहले राहुल गांधी (Rahul Gandhi) पार्टी के कार्यकर्ताओं से उनकी राय भी जानना चाहते हैं. वह चाहते हैं कि इस फैसले में पार्टी के लिए दिनरात एक कर मेहनत करने वाले कार्यकर्ताओं की पसंद को भी ध्यान में रखा जाए.

यह भी पढ़ें: मध्यप्रदेश में कमलनाथ का पलड़ा भारी, लेकिन राहुल गांधी लेंगे अंतिम फैसला


उन्होंने बुधवार को इस बाबत एक ऑडियो टेप भी जारी किया. इस टेप में वह अपने कार्यकर्ताओं से पूछ रहे हैं कि आखिर उनके हिसाब से तीनों राज्यों में किसे मुख्यमंत्री बनाना चाहिए. ऑडियो टेप में राहुल गांधी अपने कार्यकर्ताओं को आश्वासन दे रहे हैं कि वह बगैर किसी हिचक के उन्हें अपनी पसंद बताएं.
 

विधानसभा चुनाव परिणाम 2018 : मध्य प्रदेश


वह कार्यकर्ताओं से कह रहे हैं कि आप यह न सोचें की मैं आपके नाम को जाहिर करूंगा, आपकी पहचान गुप्त रखी जाएगी और इसकी जानकारी सिर्फ मुझे होगी कि आपने किसे अपनी पसंद बताया है. बता दें कि कांग्रेस ने मध्यप्रदेश में कुल 114 सीटें जीतीं हैं.

यह भी पढ़ें: मध्य प्रदेश में ना कांग्रेस और ना ही बीजेपी को बहुमत

टिप्पणियां

जबकि यहां मुख्यमंत्री पद के दावेदार के तौर पर कमलनाथ और ज्योतिरादित्य सिंधिया का नाम सबसे ऊपर चल रहा है. वहीं राजस्थान में पार्टी को 99 सीटें मिली हैं. यहां मुख्यमंत्री की रेस में वरिष्ठ नेता अशोक गहलोत और युवा नेता सचिन पायलट हैं. पार्टी सूत्रों के अनुसार पार्टी यह निर्णय अगले साल होने वाले लोकसभा चुनाव को ध्यान में रखकर करना चाहती है. वह युवा चेहरे के साथ-साथ अनुभव को भी अहमीयत देने की फिराक में है. राहुल गांधी ने चुनाव परिणाम आने के बाद मीडिया से बात करते हुए कहा था कि मुख्यमंत्री कौन होगा यह पार्टी के लिए कोई बड़ा मुद्दा नहीं है. यह काम बड़ी आसानी से हो जाएगा. 

VIDEO: कौन होगा सीएम, राहुल ने कार्यकर्ताओं से पूछा सवाल.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों, LIVE अपडेट तथा चुनाव कार्यक्रम के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement