NDTV Khabar

कर्नाटक में सियासी घमासान जारी, येदियुरप्पा सरकार के फ्लोर टेस्ट से पहले मंगलौर में धारा 144 लागू

सुप्रीम कोर्ट ने येदियुरप्पा सरकार को शनिवार को बहुमत साबित करने का आदेश दिया है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
कर्नाटक में सियासी घमासान जारी, येदियुरप्पा सरकार के फ्लोर टेस्ट से पहले मंगलौर में धारा 144 लागू

येदियुरप्पा और पीएम मोदी (फाइल फोटो)

मंगलौर: कर्नाटक में जारी राजनीतिक उठा-पटक के बीच भारतीय जनता पार्टी को बहुमत साबित करने संबंधी सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद एहतियात के तौर पर मंगलौर में धारा 144 लगाया गया है. बता दें कि सुप्रीम कोर्ट ने येदियुरप्पा सरकार को शनिवार को बहुमत साबित करने का आदेश दिया है. शुक्रवार को सुप्रीम कोर्ट ने बीएस येदियुरप्पा को 19 मई को शाम चार बजे बहुमत साबित करने का आदेश दिया है.  सुप्रीम कोर्ट ने येदियुरप्पा को शक्ति प्रदर्शन के लिए राज्यपाल द्वारा दी गई 15 दिन की समय सीमा को घटा दिया. 

राहुल गांधी पर बीजेपी का उपकाऱ और ब्लॉग को लेकर मेरी दुविधा...

बता दें कि बीजेपी के पास 104 विधायक हैं और बहुमत के लिये 112 विधायक चाहिये. वहीं कांग्रेस के 78 और जेडीएस के 38 मिलाकर 116 विधायक हैं. इसके अलावा कांग्रेस का दावा है कि 2 निर्दलीय विधायकों का भी समर्थन है. बता दें कि  सुप्रीम कोर्ट ने कांग्रेस और जेडीएस की ओर से दायर की गई याचिका की सुनवाई के दौरान यह आदेश दिया.

दोनों ही खेमों ने आंकड़े अपने पक्ष में होने का भरोसा जताया है. उधर , राज्यपाल वजुभाई वाला द्वारा भाजपा विधायक के जी बोपैया को अस्थायी अध्यक्ष ( प्रोटेम स्पीकर ) नियुक्त करने को लेकर एक और कानूनी लड़ाई की संभावना पैदा हो गई है. आमतौर पर विधानसभा के सबसे वरिष्ठ सदस्य को अस्थायी अध्यक्ष बनाया जाता है और इस प्रकार कांग्रेस के आर वी देशपांडे इस पद के लिए योग्य हैं.

कर्नाटक : जूनियर विधायक को प्रोटेम स्पीकर नियुक्त करने के खिलाफ याचिका दाखिल, सुनवाई आज

गुरुवार की सुबह तीसरी बार मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने वाले लिंगायत नेता येदियुरप्पा (75) ने कहा कि वह राज्य विधानसभा में बहुमत साबित करने को लेकर ‘‘100 प्रतिशत ’’ आश्वस्त हैं. शीर्ष अदालत के आदेश के तुरंत बाद येदियुरप्पा ने बेंगलुरू में पत्रकारों से कहा , ‘हम उच्चतम न्यायालय के आदेश का पालन करेंगे ... बहुमत साबित करने के लिए हमारे पास 100 प्रतिशत सहयोग एवं समर्थन है.’ 

येदियुरप्पा ने कहा , ‘इस सब राजनीतिक खेल के बीच , हम कल बहुमत साबित करेंगे. हम उच्चतम न्यायालय के आदेश का पालन करेंगे.’ वहीं , जद ( एस ) के प्रमुख और विपक्षी खेमे के मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार एच डी कुमारस्वामी ने कहा कि उन्हें गठबंधन के विधायकों पर ‘पूरा भरोसा’ है.

येदियुरप्पा के करीबी बोपैया अस्थायी अध्यक्ष नियुक्त, कर्नाटक विधानसभा में कराएंगे शक्ति परीक्षण

टिप्पणियां
उधर , कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री सिद्धरमैया ने कांग्रेस में किसी तरह की टूट की बात को खारिज करते हुए कहा कि कल विधानसभा में होने वाले शक्ति परीक्षण से पहले उनके सभी विधायक साथ हैं. जद ( एस ) के विधान परिषद सदस्य बसवराज ने कहा कि सिद्धरमैया ने हैदराबाद में कांग्रेस के नवनिर्वाचित विधायकों की बैठक को संबोधित किया है. उन्होंने कहा कि जद ( एस ) के 36 तथा कांग्रेस के 77 विधायक होटलों में डेरा डाले हुए हैं. 

VIDEO: नेशनल रिपोर्टर: जेडीएस के दो विधायक गायब, बीजेपी पर आरोप


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement