NDTV Khabar

वे 7 फिल्में, जो सिनेमाघर पर चिपकीं, तो उतरने का नाम नहीं लिया

आज फिल्में सिर्फ वीकेंड तक सिमटकर रह गई हैं जबकि एक समय था जब फिल्में कीर्तिमान बनाया करती थीं.

1570 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
वे 7 फिल्में, जो सिनेमाघर पर चिपकीं, तो उतरने का नाम नहीं लिया

खास बातें

  1. मराठा मंदिर पर अभी बरकरार है डीडीएलजे
  2. शोले का हरेक कैरेक्टर आज भी है ताजा
  3. अब तो सिर्फ वीकेंड की बात होती है
नई दिल्ली: बात 1943 की है. बॉम्बे टॉकीज की फिल्म ‘किस्मत’ रिलीज हुई. फिल्म में अशोक कुमार लीड रोल में थे. ये फिल्म भारतीय फिल्म इंडस्ट्री के इतिहास की पहली ब्लॉकबस्टर थी. लेकिन यह आजादी से पहले की बात थी. आजादी के बाद की सबसे बड़ी ब्लॉकबस्टर में 'बरसात' फिल्म का नाम आता है. उसके बाद मुगल-ए-आजम और शोले जैसी फिल्में भी हैं. लेकिन समय के साथ करवट लेटे बॉलीवुड ने कई रूप अख्तियार किए हैं. कयामत से कयामत के आते-आते अमिताभ बच्चन के रूप में नजर आया एंग्री यंगमैन हवा हो गया और जगह सलमान, आमिर जैसे चॉकलेटी हीरो ने ले ली. लेकिन दिलवाले दुलहनिया ले जाएंगे के साथ ही इस बात की घोषणा हो गई कि बॉलीवुड से गांव और देहात की फिल्मों का दौर गुजर चुका है और एनआरआइ फिल्मों ने दस्तक दी. लगभग एक दशक तक एनआरआई कल्चर फिल्मों में छाया रहा. 2010 के बाद बॉलीवुड ने फिर से करवट लेनी शुरू की और अब असल जिंदगी से जुड़ी फिल्में बनने लगी हैं. फिर वह चाहे दम लगा के हईशा हो या अलीगढ़ या फिर क्वीन. बेशक बॉलीवुड से गांव देहात खत्म हो गए हों लेकिन छोटे शहर लौट रहे हैं. आइए सिनेमाघरों पर लंबे समय तक चलने वाली फिल्मों पर एक नजर डालते हैः

दिलवाले दुलहनिया ले जाएंगेयह भारतीय सिनेमा के इतिहास में सबसे ज्यादा हफ्तों तक चलने वाली फिल्म है. दिलवाले दुलहनिया ले जाएंगे 20 अक्टूबर, 1995 में रिलीज हुई थी, और आज भी यह मुंबई के मराठा मंदिर में चल रही है. इसे रिलीज हुए एक 1,000 से ज्यादा हफ्ते हो गए हैं.
 
sholay

शोले: जय, वीरू, ठाकुर, कालिया, सांबा, बसंती, धन्नो और गब्बर जैसे यादगार किरदार देने वाली यह फिल्म 15 अगस्त, 1975 को रिलीज हुई थी. ये फिल्म मुंबई के मिनर्वा थिएटर में पांच साल तक चली थी, लगभग 286 हफ्ते तक इसने दर्शकों का मनोरंजन किया.
 
mughal

मुगल-ए-आजम: दिलीप कुमार, मधुबाला और पृथ्वीराज कपूर की ये शानदार फिल्म अपने समय की सबसे महंगी फिल्मों में से थी. इसने सिनेमाघरों में लगभग 150 हफ्ते पूरे किए. दिलीप और मधुबाला की कैमिस्ट्री, अपने संगीत और भव्य सेट्स की वजह से फिल्म ने खूब धमाल मचाया.
 
barsaat

बरसात: फिल्म 21 अप्रैल, 1949 में रिलीज हुई, राज कपूर की पहली सुपरहिट फिल्म थी. फिल्म ने बॉक्स ऑफिस पर 100 हफ्ते पूरे किए थे. कहा जाता है कि इस फिल्म की सफलता के बाद राज कपूर ने आर.के. स्टूडियो खरीद लिया था. इसी फिल्म के पोस्टर से आर.के स्टूडियोज का लोगो लिया गया.
 
maine pyar kiya

मैंने प्यार किया: फिल्म 29 दिसंबर, 1989 को रिलीज हुई थी. इसके शुरू में सिर्फ 29 प्रिंट रिलीज किए गए थे. इस फिल्म के साथ सलमान खान ने बॉलीवुड में डेब्यू किया था. फिल्म लगभग 50 हफ्तों तक सिनेमाघरों में चली.
 
raja hindustani

राजा हिंदुस्तानी: आमिर खान और करिश्मा कपूर की ‘जब जब फूल खिले’ का रीमेक यह फिल्म 15 नवंबर, 1996 को रिलीज हुई थी. फिल्म का गाना परदेसी परदेसी सुपरहिट हो गया था, और फिल्म का कामयाबी में इसका काफी बड़ा हाथ रहा था.
 
hrithik

कहो न प्यार है: हृतिक रोशन की ये डेब्यू फिल्म 14 जनवरी, 2000 में रिलीज हुई थी. फिल्म में हृतिक का स्टाइल, डांस और एक्शन सब दर्शकों को खूब भाया, और उन्हें एक नया सुपरस्टार मिला. फिल्म लगभग एक साल तक विभिन्न सिनेमाघरों में चली.

क्लिक करें: आजादी@70 पर हमारी खास पेशकश


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement