कोरोना वायरस : साइना नेहवाल की दोटूक, ऑल इंग्‍लैंड ओपन को जारी रखकर प्‍लेयर्स की सुरक्षा को खतरे में डाला गया..

साइना नेहवाल ने कहा है कि ऑल इंग्लैंड चैंपियनशिप को आयोजित करने का मकसद केवल पैसा था और इसमें खिलाड़ियों की सुरक्षा से ज्यादा पैसे को अहमियत दी गई.

कोरोना वायरस : साइना नेहवाल की दोटूक, ऑल इंग्‍लैंड ओपन को जारी रखकर प्‍लेयर्स की सुरक्षा को खतरे में डाला गया..

Saina Nehwal ने ऑल इंग्‍लैंड बैडमिंटन चैंपियनशिप के आयोजकों पर गंभीर आरोप लगाया है

खास बातें

  • कहा, आयोजकों का ध्‍यान पैसों पर था
  • टूर्नामेंट जारी रखने का कोई कारण नहीं था
  • टूर्नामेंट के पहले ही दौर में हार गई थीं साइना
हैदराबाद:

कोरोना वायरस के दुनियाभर में फैले खौफ के बीच देश की स्‍टार शटलर साइना नेहवाल (Saina Nehwal) ने ऑल इंग्‍लैंड बैडमिंटन चैंपियनशिप (All England Open 2020) के जर‍िये पैसा बनाने के चक्‍कर में प्‍लेयर्स की सुरक्षा को खतरे में डालने का आरोप लगाया है. साइना नेहवाल ने कहा है कि ऑल इंग्लैंड चैंपियनशिप को आयोजित करने का मकसद केवल पैसा था और इसमें खिलाड़ियों की सुरक्षा से ज्यादा पैसे को अहमियत दी गई. उन्‍होंने ट्विटर पर लिखा, "मैं केवल एक बात सोच सकती हूं कि खिलाड़ियों की सुरक्षा और भावनाओं के बजाय वित्तीय हितों को अधिक महत्व दिया गया. इसके अलावा पिछले सप्ताह ऑल इंग्लैंड ओपन 2020 को जारी रखने का कोई दूसरा कारण नहीं था."

गौरतलब है कि साइना ऑल इंग्लैंड ओपन-2020 के पहले ही दौर में हारकर बाहर हो गई थीं. कोरोना वायरस के कारण दुनियाभर में कई खेल टूर्नामेंट स्थगित कर दिए गए थे लेकिन ऑल इंग्लैंड बैडमिंटन को जारी रखा गया था. विश्व बैडमिंटन महासंघ (BWF) ने हालांकि ऑल इंग्लैंड ओपन समाप्त होने के बाद अपने सभी टूर्नामेंटों को स्थगित कर दिया था.

गौरतलब है कि डेनमार्क के विक्टर एक्सेलसन (Viktor Axelsen) ने ताइवान के तेन चेन चोऊ को हराकर इस प्रतिष्ठित टूर्नामेंट का पुरुष वर्ग का सिंगल्‍स खिताब जीता.दूसरे सीड खिलाड़ी एक्सेलसन ने पहली सीड चोउ को 46 मिनट के भीतर 21-13, 21-14 से हराया. महिला सिंगल्स का खिताब ताई जू यिंग ने चैंपियन बनने का गौरव हासिल किया.



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com