BADMINTON: कुछ ऐसे Satwiksairaj Rankireddy और Chirag Shetty फ्रेंच ओपन के फाइनल में हार गए

BADMINTON: कुछ ऐसे  Satwiksairaj Rankireddy और Chirag Shetty फ्रेंच ओपन के फाइनल में हार गए

खास बातें

  • मार्कस फर्नाल्डी गिडियोन और केविन संजय सुकामुल्जो से हारे भारतीय
  • दुनिया की नंबर एक जोड़ी है मार्कस गिडियोन व केविन संजय सुकामुल्जो
  • विश्व टूर 750 के फाइनल में पहुंचने वाली पहली भारतीय जोड़ी रही
पेरिस:

सात्विकसाईराज रंकीरेड्डी (Satwiksairaj Rankireddy) और चिराग शेट्टी (Chirag Shetty) की की भारतीय पुरुष युगल जोड़ी फ्रेंच ओपन सुपर 750 बैडमिंटन टूर्नामेंट के फाइनल में रविवार को यहां मार्कस फर्नाल्डी गिडियोन और केविन संजय सुकामुल्जो की शीर्ष वरीयता प्राप्त जोड़ी से हार गयी. भारतीय जोड़ी को मार्कस और केविन से 18-21, 16-21 से हार का सामना करना पड़ा. इंडोनिशया की जोड़ी का यह विश्व में नंबर एक रैंकिंग पर 121वां सप्ताह है. सात्विक और चिराग अभी तक सात बार उनसे भिड़े हैं लेकिन हर बार भारतीय जोड़ी को पराजय झेलनी पड़ी. 

यह भी पढ़ेंकुछ ऐसे PV Sindhu फ्रेंच ओपन के क्वार्टरफाइनल में हार गईं

अगस्त में थाईलैंड ओपन का खिताब जीतने वाले सात्विक और चिराग 35 मिनट तक चले फाइनल में थोड़ा नर्वस दिखे. इस हार के बावजूद इस जोड़ी का प्रदर्शन सराहनीय रहा क्योंकि वह विश्व टूर 750 के फाइनल में पहुंचने वाली पहली भारतीय पुरुष युगल जोड़ी है. पार्थो गांगुली और विक्रम सिंह बिष्ट आखिरी भारतीय जोड़ी थी जिसने 1983 में फ्रेंच ओपन का खिताब जीता था. एकल में किदाम्बी श्रीकांत ने 2017 में पुरुष वर्ग का खिताब जीता था जबकि साइना नेहवाल 2012 में यहां फाइनल में पहुंची थी.

यह भी पढ़ें:  इसलिए PV Sindhu ने किया चुनिंदा टूर्नामेंटों में खेलने का फैसला

सात्विक और चिराग की शुरुआत अच्छी नहीं रही और इंडोनेशिया की जोड़ी ने 7-1 से बढ़त बना ली. भारतीय जोड़ी ने हालांकि इसके बाद वापसी की और वे एक समय स्कोर को 17-17 से बराबरी पर ले आये. इंडोनेशिया की जोड़ी ने हालांकि जल्द ही तीन गेम अंक हासिल किये. इनमें भारतीय जोड़ी ने एक अंक बचाया लेकिन वे मार्कस और केविन को पहला गेम जीतने से नहीं रोक पाये. दूसरे गेम में शुरू में पिछड़ने के बाद सात्विक और चिराग ने वीडियो रेफरल अपने पक्ष में आने के बाद 6-6 से बराबरी की और फिर दोनों जोड़ियां 10-10 तक एक दूसरे को टक्कर देती रही. 

यह भी पढ़ेंअब PV Sindhu की आंखों में पल रहा है बस एक ही सपना

ब्रेक के समय मार्कस और केविन ने केवल एक अंक की बढ़त हासिल कर रखी थी. इंडोनेशिया की जोड़ी इसके बाद हावी हो गयी और उसने 18-13 से बढ़त बना ली. इसके बाद उन्होंने जल्द ही चार मैच प्वाइंट हासिल किए और सात्विक के शाट बाहर मारने के साथ ही वर्ष का सातवां खिताब अपने नाम किया. इस बीच रियो ओलंपिक चैंपियन चीन के चेन लोंग ने इंडोनेशिया के जोनाथन क्रिस्टी को 21-19, 21-12 से हराकर पुरुष एकल का खिताब जीता.

VIDEO: कुछ दिन पहले पीवी सिंधु ने एनडीटीवी से खास बातचीत की थी. 

महिला वर्ग में कोरिया की किशोरी आन सी यंग ने मौजूदा ओलिंपिक चैंपियन कारोलिना मारिन को 16-21, 21-18, 21-5 से पराजित करके सत्र का चौथा खिताब हासिल किया 

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com