BADMINTON: ...तो पीवी सिंधू अपने प्रशंसकों को देंगी जापान ओपन में यह तोहफा, साइना नेहवाल की भी वापसी

BADMINTON: ...तो पीवी सिंधू अपने प्रशंसकों को देंगी जापान ओपन में यह तोहफा, साइना नेहवाल की भी वापसी

पीवी सिंधू की फाइल फोटो

खास बातें

  • मंगलवार से शुरू हो रहा जापान ओपन
  • हाल ही में इंडोनेशिया ओपन के फाइल में पहुंची थीं पीवी सिंधू
  • कई भारतीय खिलाड़ी किस्मत आजमाएंगे
तोक्यो:

भारत की शीर्ष बैडमिंटन खिलाड़ी पीवी सिंधू (PV Sindhu) के चाहने वालों सहित भारतीय बैडमिंटन प्रेमियों की नजरें इंडोनेशिया ओपन के फाइनल में मिली हार के बाद मंगलवार से शुरू हो रहे जापान ओपन बीडब्ल्यूएफ विश्व टूर सुपर 750 टूर्नामेंट में लगी हुई है. और प्रशंसकों को पूरा भरोसा है कि इस टूर्नामेंट के जरिए पीवी सिंधू उन्हें वह तोहफा जरूर प्रदान करेंगी, जिसका इंतजार वे पिछले लंबे समय से कर रहे हैं. इस टूर्नामेंट में साइना नेहवाल (Saina Nehwal) की भी वापसी होगी जो फिटनेस समस्याओं के कारण इंडोनेशिया ओपन सुपर 1000 प्रतियोगिता में भाग नहीं ले सकी थीं. सिंधू रविवार को जकार्ता में इंडोनेशिया ओपन के फाइनल में जापान की अकाने यामागुची से हारकर सात महीने के खिताबी सूखे को खत्म नहीं कर सकी थीं. वह इस कसक को जापान में पूरा करना चाहेंगे जहां उनका अभियान चीन की हान यूई के खिलाफ शुरू होगा. 

सिंधू अगर पहले दौर के मुकाबले को जीत जाती हैं, तो दूसरे दौर में उनका सामना स्कॉटलैंड की क्रिस्टी गिलमोर या जापान की आया ओहोरी से होगा. पांचवीं वरीयता प्राप्त यह भारतीय खिलाड़ी इंडोनेशिया में यामागुची से मिली शिकस्त का बदला इस टूर्नामेंट के क्वार्टर फाइनल में ले सकती हैं, जहां सिंधू का सामना चौथी वरीयता प्राप्त इस खिलाड़ी से हो सकता है. टूर्नामेंट में आठवीं वरीयता प्राप्त साइना नेहवाल इकलौती भारतीय खिलाड़ी हैं, जिन्होंने मौजूदा सत्र में खिताब जीता है. वह अपने अभियान की शुरूआत में थाईलैंड की बुसनान ओंगबुरूंगपान से भिडेंगी. इस खिलाड़ी के खिलाफ साइना के जीत का रिकार्ड 3-1 का है. बहरहाल, सिंधू अगर टूर्नामेंट जीत जाती हैं, तो यह उनके प्रशंसकों के लिए खास तोहफा होगा, जो इस इंतजार में हैं कि सिंधू साल के खिताबी सूखे का उनका लंबा इंतजार खत्म करेंगी. जी हां, पीवी सिंधू साल 2019 में एक भी बड़ा खिताब अपनी झोली में नहीं ही डाल सकी हैं. 

यह भी पढ़ें: ओलिंपिक से पहले भारतीय बैडमिंटन के लिए बुरी खबर, साइना नेहवाल सहित ये खिलाड़ी हैं चोटों से परेशान..

वहीं, पुरुष एकल के शुरूआती दौर में ही दो शीर्ष भारतीय खिलाड़ियों को सामना होगा. जहां एचएस प्रणय आठवीं वरीयता प्राप्त किदांबी श्रीकांत को चुनौती पेश करेंगे. अंतरराष्ट्रीय मुकाबलों में हालांकि श्रीकांत का पलड़ा भारी है जिन्होंने पांच मुकाबलों में से चार में जीत दर्ज की है. अन्य भारतीय खिलाड़ियों में स्विस ओपन के उपविजेता बी साई प्रणीत पहले दौर में जापान के केंटा निशिमोटो के खिलाफ कोर्ट में उतरेंगे. चोट के कारण इंडोनेशिया ओपन से बाहर रहने वाले समीर वर्मा इसके उपविजेता डेनमार्क के अंद्रेस अंटोनसेन को पहले दौर में चुनौती पेश करेंगे. युगल खिलाड़ियों में सात्विकसाइराज रांकिरेड्डी और चिराग शेट्टी की भारतीय पुरूषों की जोड़ी को पहले दौर में रियो ओलिंपिक की कांस्य पदक विजेता इंग्लैंड के मार्क्स इल्लिस और क्रिस लांग्रिज की जोड़ी का सामना करेगी.

यह भी पढ़ें: रोमानिया के सर्वोच्च सम्मान से नवाजी जाएंगी विंबलडन चैंपियन सिमोना हालेप

मनु अत्री और बी सुमीत रेड्डी के सामने मलेशिया के गोह स्जे फई और नूर इज्जुद्दीन की पुरुष जोड़ी की चुनौती होगी. प्रणव जेरी चोपड़ा और सिक्की की मिश्रित युगल जोड़ी के सामने झेंग सी वेई और हुआंग येओंग की शीर्ष वरीय चीनी जोड़ी की मुश्किल चुनौती है. चीन की इस जोड़ी ने रविवार को इंडोनेशिया ओपन खिताब को अपने नाम किया था. 

VIDEO: काफी समय पहले एनडीटीवी ने भारतीय पुरुष व महिला हॉकी कप्तानों से खास बात की थी. 

सात्विकसाईराज और अश्विनी मिश्रित युगल मुकाबले में मार्विन सीडेल और लिंडा एफलर की जर्मन जोड़ी के खिलाफ उतरेंगे.    

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com