Badminton: पीवी सिंधु चीन ओपन के दूसरे दौर में पहुंचीं, साइना नेहवाल हुईं बाहर

Badminton: पीवी सिंधु चीन ओपन के दूसरे दौर में पहुंचीं, साइना नेहवाल हुईं बाहर

PV Sindhu ने चीन की Li Xuerui को महज 34 मिनट में हराकर अगले दौर में जगह बनाई

खास बातें

  • पहले दौर में चीनी खिलाड़ी को हराया
  • साइना नेहवाल को थाई खिलाड़ी ने हराया
  • पुरुष वर्ग में साई प्रणीत भी दूसरे दौर में पहुंचे
चांगझू (चीन):

भारत की स्टार महिला बैडमिंटन खिलाड़ी पीवी सिंधु (PV Sindhu)ने अपने शानदार प्रदर्शन को जारी रखते हुए चीन ओपन वर्ल्ड टूर सुपर 1000 टूर्नामेंट (China Open World Tour Super 1000 tournament) के दूसरे दौर में स्थान बना लिया है. सिंधु ने महिला एकल वर्ग के पहले दौर में बुधवार को पूर्व ओलिम्पिक स्वर्ण पदक विजेता चीन की ली शुररुई (Li Xuerui) को सीधे सेटों में 21-18, 21-12 से पराजित किया. वर्ष 2016 में चीन ओपन का खिताब जीतने वाली 24 वर्षीय सिंधु और शुररुई के बीच यह मुकाबला महज 34 मिनट तक चला. उधर महिला वर्ग में भारत की एक अन्य स्टार खिलाड़ी साइना नेहवाल (Saina Nehwal) को हार के साथ टूर्नामेंट से बाहर होना पड़ा. पुरुष वर्ग में बी साई प्रणीत ने भी जीत के साथ टूर्नामेंट के दूसरे दौर में जगह बना ली है. प्रणीत ने पुरुष युगल वर्ग में तीन गेम तक चले एक कड़े मुकाबले में थाईलैंड के सूपानयू ए को 21-19, 21-23, 21-14 से शिकस्त दी. यह मुकाबला कुल एक घंटे और 12 मिनट तक चला.

Pulela Gopichand ने की PV Sindhu और अन्य अहम मुद्दों पर दिल की बात

वर्ल्ड नंबर-5 सिंधु (PV Sindhu) ने पिछले महीने स्विट्जरलैंड के बासेल में हुई वर्ल्ड चैम्पियनशिप में स्वर्ण पदक जीता था. वह इससे पहले दो बार वर्ल्डचैम्पियनशिप के फाइनल में पहुंची थीं.  इस बीच, साइना नेहवाल को टूर्नामेंट से बाहर का रास्ता देखना पड़ा है. उन्हें महिला एकल वर्ग के शुरुआती दौर में थाईलैंड की बुसानन ओंगबाम्रुंगफान के खिलाफ हार झेलनी पड़ी. आठवीं वरीयता प्राप्त साइना को वर्ल्ड नंबर-8 बुसानन ने सीधे सेटों में 21-10, 21-17 से शिकस्त दी. दोनों खिलाड़ियों के बीच यह मुकाबला केवल 44 मिनट तक चला. थाईलैंड की खिलाड़ी के आगे साइना सीधे गेमों में मुकाबला गंवा बैठीं.

Sourabh Verma ने जीता Vietnam Open बैडमिंटन का खिताब

साइना (Saina Nehwal) शुरुआत से ही थाईलैंड के खिलाड़ी के सामने मुश्किल में नजर आईं और अपनी लय पाने में नाकाम रहीं. इससे पहले, चीन ओपन में साइना का प्रदर्शन सराहनीय रहा है. वर्ष 2014 में उन्होंने इस टूर्नामेंट का खिताब जीता था और उसके अगले साल फाइनल में भी प्रवेश किया था. हालांकि, लंदन ओलिम्पिक की कांस्य पदक विजेता साइना, थाई खिलाड़ी बुसानन के सामने कुछ खास नहीं कर पाईं. वे लय हासिल करने के लिए संघर्ष करती नजर आईं और 69 में से केवल 27 अंक की जीत पाईं जबकि बाकी के 42 अंक थाईलैंड के खिलाड़ी ने हासिल किए.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

साइना (Saina Nehwal) के लिए यह साल अच्छा नहीं रहा है. उन्होंने चोट के बाद वापसी करते हुए मई में न्यूजीलैंड ओपन में हिस्सा, लेकिन फिर चोटिल होने के कारण उन्हें दो महीनों तक कोर्ट से बाहर रहना पड़ा. थाईलैंड ओपन में भी उनका प्रदर्शन अच्छा नहीं रहा और वह केवल एक मैच जीत पाईं. पिछले महीने स्विटजरलैंड के बासेल में हुई विश्व चैम्पियनशिप में भी उन्हें दूसरे दौर में हार का सामना करना पड़ा था. साइना ने जनवरी में केवल इंडोनेशिया मास्टर्स का खिताब जीता था. फाइनल में उन्होंने स्पेन की कैरोलिना मॉरिन को मात दी थी.

वीडियो: बैडमिंटन खिलाड़ी पीवी सिंधु से NDTV की खास बातचीत



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)