मध्य प्रदेश: 20 जुलाई से शुरू होने वाला मॉनसून सत्र टला, फिर अध्यादेश के जरिए आएगा बजट

मार्च महीने में कांग्रेस की कमलनाथ सरकार गिराकर दोबारा सत्ता में आने के बाद से शिवराज सिंह चौहान की सरकार का पहला बजट भी पेश होना था, लेकिन अब एक फिर बजट पेश नहीं किया जा सकेगा.

मध्य प्रदेश: 20 जुलाई से शुरू होने वाला मॉनसून सत्र टला, फिर अध्यादेश के जरिए आएगा बजट

20 जुलाई से प्रस्तावित मॉनसून सत्र स्थगित, अध्यादेश से बजट लाएगी शिवराज सरकार. (फाइल फोटो)

भोपाल:

मध्य प्रदेश विधानसभा का 20 जुलाई से प्रस्तावित मॉनसून सत्र आज सर्वसम्मति से स्थगित करने का फैसला कर लिया गया है. सत्र को लेकर आज बुलाई गई सर्वादलीय बैठक में यह फैसला लिया गया. अब इस फैसले की जानकारी राज्यपाल को दी जाएगी, जिसके बाद राजभवन द्वारा अधिसूचना जारी की जाएगी. बता दें कि मार्च महीने में कांग्रेस की कमलनाथ सरकार गिराकर दोबारा सत्ता में आने के बाद से शिवराज सिंह चौहान की सरकार का पहला बजट भी पेश होना था, लेकिन अब एक फिर बजट पेश नहीं किया जा सकेगा.

मॉनसून सत्र स्थगित होने से एक बार फिर प्रदेश में इस साल का बजट पेश नहीं हो सकेगा. इसके चलते एक बार फिर सरकार अध्यादेश के जरिए बजट लाएगी. इसके पहले भी मार्च में बजट सत्र के दौरान कमलनाथ सरकार बजट पारित करने से पहले ही गिर गई थी, जिसके चलते सरकार को कामकाज सुचारु रूप से चलाने के लिए अध्यादेश लाना पड़ा था.

गुरुवार को सत्र को लेकर बुलाई गई बैठक की अध्यक्षता प्रोक्टम स्पीकर रामेश्वर शर्मा ने की. बैठक में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ , पूर्व स्पीकर एनपी प्रजपति और संसदीय कार्यमंत्री नरोत्तम मिश्रा भी मौजूद थे.

बता दें कि मार्च में कांग्रेस में ज्योतिारदित्य सिंधिया के बीजेपी में शामिल हो जाने के बाद उनके समर्थन वाले 22 विधायकों ने भी इस्तीफा दे दिया था, जिसके बाद कमलनाथ की सरकार गिर गई थी और शिवराज सिंह को फिर राज्य में सरकार बनाने का मौका मिल गया था. बीजेपी के साथ हाथ मिलाने के बाद सिंधिया राज्यसभा सांसद बन चुके हैं, वहीं पिछले महीने हुए कैबिनेट विस्तार में उनके साथ बीजेपी में शामिल हुए विधायकों में से 11 को कैबिनेट का पद दिया गया है.

Video: मध्य प्रदेश : किराए की जमीन पर खेती कर रहे किसान पति-पत्नी ने की खुदकुशी की कोशिश

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com