NDTV Khabar

पत्रकारों से मारपीट करने वाले तीन पुलिसकर्मी निलंबित, थाना प्रभारी हुईं लाइन अटैच

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
पत्रकारों से मारपीट करने वाले तीन पुलिसकर्मी निलंबित, थाना प्रभारी हुईं लाइन अटैच

अस्पताल में इलाज कराते विजय मोहन शुक्ल।

भोपाल:

मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल के अवधपुरी इलाके में समाचार पत्र दैनिक भास्कर के दो पत्रकारों को कथित तौर पर सिमी का आतंकी बताते हुए उनके साथ मारपीट करने वाले तीन पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया गया है। इसके साथ ही इस मामले में अवधपुरी पुलिस थाने की प्रभारी निरीक्षक को थाने से हटाकर लाइन अटैच किया गया है।

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक डॉ रमन सिंह ने बताया, "पत्रकारों के साथ मारपीट करने के मामले में सहायक उप निरीक्षक आर एस दांगी, प्रधान आरक्षक सुभाष त्यागी और प्रधान आरक्षक संतोष यादव को निलंबित किया गया है। इसके साथ ही अवधपुरी पुलिस थाने की प्रभारी निरीक्षक शिखा वैश को लाइन अटैच किया गया है।"

उन्होंने पत्रकारों की शिकायत के हवाले से बताया कि दैनिक भास्कर के पत्रकार विजय प्रभात शुक्ला और कृष्णमोहन तिवारी ड्यूटी के बाद मंगलवार रात करीब डेढ़ बजे अलग-अलग बाइक से घर लौट रहे थे। अवधपुरी तिराहे पर रुककर कृष्णमोहन, विजय का सामान लौटा रहे थे। तभी वहां पुलिस की पीसीआर वैन में आए दांगी ने दोनों से नाम पता पूछा। नाम पता तथा स्वयं को पत्रकार और रात में ड्यूटी से वापस घर लौटने की बात बताने के बावजूद पुलिसकर्मियों ने कथित तौर पर नशे में हालत में दोनों पत्रकारों के साथ मारपीट की।


शुक्ला ने बताया कि अपना स्थाई पता फैजाबाद बताने के बाद पुलिसकर्मी हमें सिमी का आतंकी करार देने लगे और इसके बाद वैन में बैठाकर पुलिस थाने लाया गया और वहां भी गालीगलौच और मारपीट की गई। उन्होने आरोप लगाया, "दांगी नशे की हालत में थे तथा अपना परिचय पत्रकार के रूप में देने के बाद भी हमारी कोई बात सुनने को तैयार नहीं थे।" उन्होंने बताया, "दांगी और दूसरे पुलिसकर्मी मारपीट के बाद हमें थाने में छोड़कर चले गए और सुबह लगभग साढ़े चार बजे आकर हमें थाने से रिहा किया गया।
 

फोटो: अस्पताल में भर्ती पत्रकार कृष्ण मोहन तिवारी।

घर पहुंचकर हम दोनों की हालत खराब होने लगी और सर में गंभीर चोट लगने के कारण तिवारी को उल्टियां होने लगी। हमने अपने संपादक को आपबीती बताई और उसके बाद पुलिस अधीक्षक को शिकायत की गई।" एसएसपी ने बताया कि मेडिकल रिपोर्ट में पत्रकार शुक्ला और तिवारी के घायल होने की पुष्टि हुई है। दोनों को इलाज के लिये सरकारी जेपी अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

टिप्पणियां

एसएसपी ने बताया कि पत्रकारों के साथ मारपीट करने और बिना मामला दर्ज किए पुलिस थाने में रखने पर पुलिसकर्मियों के खिलाफ कार्रवाई करते हुए तीनों को निलंबित किया गया है तथा पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी से इस मामले की संपूर्ण जांच कराई जायेगी।

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement