बिहार चुनाव का नतीजा केंद्र सरकार पर जनमत संग्रह नहीं : अरुण जेटली

बिहार चुनाव का नतीजा केंद्र सरकार पर जनमत संग्रह नहीं : अरुण जेटली

वित्त मंत्री अरुण जेटली (फाइल फोटो)

नई दिल्‍ली:

बिहार में तीसरे चरण के मतदान से पहले वित्त मंत्री अरुण जेटली ने सोमवार को कहा कि राज्य के चुनाव का नतीजा केंद्र सरकार पर जनमत संग्रह नहीं होगा लेकिन विश्वास जताया कि भाजपा अगले दो चरणों में अच्छा प्रदर्शन करेगी।

जेटली ने कहा कि पहले दो चरण में जहां चुनाव हुए वो ऐतिहासिक तौर पर कभी भी भाजपा का गढ़ नहीं रहे थे लेकिन पार्टी अपने प्रतिद्वंद्वियों से आगे रहेगी। गौरतलब है कि 243 सदस्यीय विधानसभा में पहले दो चरणों में 81 सीटों पर मतदान हुआ है।

उन्होंने कहा, ‘पहले दो चरणों में जिन सीटों पर मतदान हुआ वो ऐतिहासिक तौर पर कभी भी भाजपा का गढ़ नहीं थे। कुल 81 में से 21 सीटें हमारे पास थीं। इन चरणों में हम अपने प्रतिद्वंद्वियों से आगे रहेंगे, हम अच्छा लाभ पाएंगे।’ अगले दो चरणों के लिए उन्होंने कहा, ‘उत्तर बिहार में तीसरे और चौथे चरण के चुनाव में हम शानदार प्रदर्शन करेंगे।’

तीसरे चरण के तहत 50 विधानसभा सीटों के लिए 28 अक्टूबर को मतदान होगा जबकि एक नवंबर को चौथे चरण में 55 सीटों के लिए मतदान होगा। हालांकि, पांचवें और अंतिम चरण के लिए उन्होंने कुछ भी अनुमान लगाने से इंकार कर दिया। उन्होंने कहा कि पांच नवंबर को जिन 57 सीटों पर मतदान होना है उसका समीकरण पहले चार चरणों से बिल्कुल अलग है।

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

यह पूछे जाने पर कि क्या बिहार विधानसभा चुनाव किसी भी तरह से केंद्र की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी नीत सरकार पर जनमत संग्रह होगा तो उन्होंने नकारात्मक जवाब दिया। उन्होंने कहा, ‘राज्य का चुनाव केंद्र पर जनादेश नहीं होता है।’

हालांकि, अगर भाजपा नीत गठबंधन चुनाव जीतती है तो यह केंद्र को मजबूत करेगा और बिहार की मदद करने की उसकी क्षमता को बढ़ाएगा। उन्होंने कहा कि अगर भाजपा राज्य में अपने दम पर स्पष्ट बहुमत हासिल कर लेती है तो भी अपने सहयोगी दलों के साथ मिलकर सरकार बनाएगी।