जेडीयू का पलटवार : आसाराम से पीएम मोदी की मुलाकात का पुराना वीडियो निकाला

जेडीयू का पलटवार : आसाराम से पीएम मोदी की मुलाकात का पुराना वीडियो निकाला

पीएम नरेंद्र मोदी का फाइल फोटो...

नई दिल्‍ली:

बिहार विधानसभा चुनाव 2015 अपने आखिरी चरण की ओर बढ़ रहा है, और उसके लिए प्रचार का मंगलवार को अंतिम दिन है, सो, सत्तासीन जनता दल यूनाइटेड (जेडीयू) ने भी पलटवार करने के उद्देश्य से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का एक पुराना वीडियो खोज निकाला है, जिसमें वह (नरेंद्र मोदी) रेप के आरोप में पिछले दो साल से जेल में बंद धार्मिक गुरु आसाराम बापू के साथ दिखाई दे रहे हैं।
 
दरअसल, कुछ दिन पहले भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) ने एक वीडियो जारी किया था, जिसमें बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार एक तांत्रिक के साथ दिखाई दे रहे थे। इस वीडियो को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने भाषणों में सीएम पर हमला करते हुए कहा था, "जंगलराज को एक नया साथी मिल गया है - जंतर-मंतर... इन दोनों को एक साथ मत आने दीजिए, वरना विनाश के सिवा कुछ नहीं मिलेगा..."
 
सोमवार को एक रैली में नीतीश कुमार ने कहा था, "प्रधानमंत्री खुद भी ज्योतिषियों से मिलते हैं... मेरे पास भी एक तस्वीर है, जिसमें वह (नरेंद्र मोदी) बेजान दारूवाला से मिल रहे हैं... वह आसाराम बापू से भी मिले थे..." इस भाषण के दौरान नीतीश की पार्टी के कार्यकर्ता अपने-अपने मोबाइल फोनों में आसाराम से मुलाकात वाला वह वीडियो दिखा रहे थे।
 
बिहार में बीजेपी के खिलाफ लड़ने के लिए बनाए गए महागठबंधन में नीतीश के साथी और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) प्रमुख लालू प्रसाद यादव ने कहा, "आसाराम बापू भी उसी पार्टी के हैं..."
 
इस सब पर जवाब देते हुए केंद्रीय मंत्री राजीव प्रताप रूडी ने कहा, "संकेतों को पढ़िए... लालू प्रसाद यादव और नीतीश कुमार कुछ भी दिखाते रहें, भारत के लोगों ने नरेंद्र मोदी को प्रधानमंत्री चुना है... अब बिहार के लोगों को ऐसे मुख्यमंत्री की ज़रूरत है, जो विकास करे..."
 
बिहार बीजेपी के नेता नंदकिशोर यादव ने कहा, "ये लोग बेहद उदास हैं... क्या दारूवाला से मिलना अपराध है...? क्या पीएम किसी से भी मिलने से पहले इन लोगों से पूछने जाएंगे..."
 
उधर, जेडीयू का कहना है कि वह यह पुराना वीडियो सिर्फ उस वीडियो का जवाब देने के लिए सामने लाए हैं, जो बीजेपी ने पेश किया था, और कम से कम दो साल पुराना है।
 
बिहार में जारी मुकाबले में बीजेपी तथा महागठबंधन के बीच कड़ी टक्कर मानी जा रही है, और दोनों ही पक्षों की ओर से लगातार वार-पलटवार होते रहे हैं। यह वीडियो इसी शृंखला की ताजातरीन कड़ी है। राज्य में बीजेपी ने मुख्यमंत्री पद के लिए कोई नाम पेश नहीं किया, जिससे पार्टी का सारा प्रचार अभियान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर ही केंद्रित रहा, जबकि दूसरी ओर नीतीश कुमार लगातार तीसरी बार मुख्यमंत्री पद पर काबिज होने के लिए मैदान में हैं।
 
सोमवार को आखिरी तीन रैलियों को मिलाकर प्रधानमंत्री ने राज्यभर में कुल 30 रैलियां कीं, जबकि नीतीश और लालू चुनाव प्रचार के आखिरी दिन मंगलवार को कई रैलियों को संबोधित कर रहे हैं। राज्य में पांच चरणों में हुए चुनाव के आखिरी चरण के तौर पर गुरुवार, 5 नवंबर को मतदान होगा, जबकि मतगणना रविवार, 8 नवंबर को होगी।

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com