NDTV Khabar

पकड़ा गया अहमदाबाद में 2008 में हुए बम धमाके का मास्टर माइंड आतंकी तौसीफ खान

अहमदाबाद के सीरियल ब्लास्ट में 21 जगह धमाके हुए थे जिसमें 56 लोग मारे गए थे.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
पकड़ा गया अहमदाबाद में 2008 में हुए बम धमाके का मास्टर माइंड आतंकी तौसीफ खान

मुख्य आरोपी तौसीफ खान को उसके दो और साथियों के साथ गिरफ़्तार किया गया है....

पटना: बिहार पुलिस ने अहमदाबाद में 2008 में हुए सीरियल ब्लास्ट के मुख्य आरोपी तौसीफ खान को उसके दो और साथियों के साथ गिरफ़्तार किया है. तौसीफ के अलावा एक और व्यक्ति सरवर खान भी प्रतिबंधित संगठन सिमी से जुड़ा रहा हैं. अभी तक प्रारंभिक पूछताछ में तौसीफ ने अहमदाबाद ब्लास्ट में अपनी संलिप्तता स्वीकार किया है. अहमदाबाद के सीरियल ब्लास्ट में 21 जगह धमाके हुए थे जिसमें 56 लोग मारे गए थे. तौसीफ ने अधिकांश जगह बम प्लांट किए थे.

गुरुवार को दोपहर बाद से ही जिला पुलिस सहित विभिन्न जांच एजेंसियों द्वारा पूछताछ किए जाने के बाद इनमें से एक की पहचान 2008 के अहमदाबाद बम ब्लास्ट कांड में शामिल आतंकी तौसीफ खान के रूप में की गई. वह गया में मो. अतीक के नाम से अपनी पहचान बदल कर रह रहा था.

तौसीफ ने पुलिस के सामने स्वीकार किया यहां रहने के दौरान वह डोभी थाना क्षेत्र के करमौनी में संचालित एक विद्यालय में आतंक की शिक्षा देने में जुटा था. उसने बस चूक यहीं पर कर दी कि गया के राजेंद्र आश्रम स्थित एक साइबर कैफ़े से अपने आतंकी नेटवर्क से जुड़े काम करता था. साइबर कैफ़े के संचालक को जैसे ही इस मामले में शक हुआ, उसने इसकी सूचना सिविल लाइंस थाना को दी. पुलिस हरकत में आई और दबोच लिया लेकिन उसने पुलिस को धोखा देने की कोशिश की. कड़ाई से पूछताछ की गई तो उसने सब कुछ कबूल लिया.

गिरफ्तार आतंकी तौसीफ खान की निशानदेही पर पुलिस ने एक अन्य व्यक्ति मो. सरवर को भी गिरफ्तार कर लिया. उक्त आतंकी भी आतंकी संगठन सिम्मी का सदस्य बताया जाता है. बहरहाल गिरफ्तार तौसीफ खान, मो. सम्मी व मो. सरवर से जिला पुलिस कप्तान गरिमा मल्लिक के नेतृत्व में एटीएस, आर्मी इंटेलीजेंस ब्यूरो सहित अन्य जांच एजेंसियां पूछताछ में जुटी हैं.  

यह भी पढ़ें: अहमदाबाद सीरियल धमाके : बम में इलेक्ट्रॉनिक चिप्स फिट करने का आरोपी गिरफ्तार

सहादेव खाप गाव में जब इसकी पूछताछ की गई तो वह स्थानीय लोगो एवं चाय बिक्रेता ने बताया कि यहां शिक्षक के रूप में मुमताज पब्लिक स्कूल में देखा गया है परंतु वहीं दूसरी ओर मुमताज पब्लिक स्कूल के डायरेक्टर शहवाज खान की पत्नी शबाना ने बताया कि मेरे स्कूल में नहीं था और न ही मैं उसे पहचानती हूं. चाय दुकानदार ने बताया की विगत एक वर्ष से उसे इस गांव में देखा जा रहा था जबकि अन्य स्थानीय लोगों ने बताया कि चार पांच माह से उसे इस एरिया में देखा जा रहा था.

VIDEO: अहमदाबाद में 11 देसी बम बरामद, तीन गिरफ्तार


हालांकि पूछताछ में तौसीफ ने ये भी दावा किया कि उसने कई सांसदों को भी ईमेल किया था लेकिन किसी भी सांसद ने उसके मेल का जवाब नहीं दिया. बिहार पुलिस को उम्मीद हैं कि अहमदाबाद पलीस के पास कई साक्ष्य हैं और एक बार उन तथ्यों के साथ पूछताछ करेगी तब नए ख़ुलासे हो सकते हैं.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement