NDTV Khabar

बिहार: DMCH की बड़ी लापरवाही, अस्पताल के ICU में नवजात को 'चूहे ने कुतरकर' मार डाला

बिहार में दरभंगा मेडिकल कॉलेज और अस्पताल (DMCH) की एक बड़ी लापरवाही सामने आई है. डीएमसीएच में चूहे के काटने से कथित तौर पर एक नवजात की मौत हो गई.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
बिहार: DMCH की बड़ी लापरवाही, अस्पताल के ICU में नवजात को 'चूहे ने कुतरकर' मार डाला

प्रतीकात्मक फोटो.

खास बातें

  1. बिहार के दरभंगा में चूहे के काटने से नवजात की मौत
  2. अस्पताल ने चूहे काटने से मौत के आरोपों को नकारा
  3. बिहार के दरभंगा मेडिकल कॉलेज अस्पताल का मामला
दरभंगा:

बिहार में दरभंगा मेडिकल कॉलेज और अस्पताल (DMCH) की एक बड़ी लापरवाही सामने आई है. डीएमसीएच में चूहे के काटने से कथित तौर पर एक नवजात की मौत हो गई. चिकित्सक हालांकि इन आरोपों को सिरे से खारिज करते हैं. इस बीच जिला प्रशासन ने पूरे मामले में जांच कराने की बात कही है. मधुबनी के सकरी थाना के निवासी फिरन चौपाल का कहना है कि गंभीर रूप से बीमार होने के कारण उसने अपने नवजात बच्चे को डीएमसीएच में भर्ती कराया था. आरोप है कि नवजात शिशुरोग विभाग के आईसीयू (ICU) में सोमवार देर रात चूहे के कुतरने से 9 दिन के बच्चे की मौत हो गई.

यह भी पढ़ें : बिहार में गायब हुई बीयर की 200 केन, तो अधिकारियों ने कहा चूहे गटक गए, जानें पूरा मामला

बच्चे के पिता का कहना है कि रात 1 बजे तक बच्चा पूरी तरह स्वस्थ था. मंगलवार सुबह 5 बजे उसे देखने पहुंचा तो देखा कि बच्चे के हाथ और पैर को चूहे कुतर रहे थे और बच्चा मृत पड़ा था. उन्होंने कहा कि नर्स और चिकित्सकों की लापरवाही के कारण उसके बच्चे की मौत हो गई. इधर, आईसीयू के कोऑर्डिनेटर डॉ. ओमप्रकाश का कहना है कि बच्चे की हालत गंभीर थी, इस कारण उसकी मौत हो गई. उन्होंने चूहे के कुतरने से बच्चे की मौत से साफ इनकार किया, उन्होंने हालांकि आईसीयू में चूहे होने से इनकार नहीं किया.


यह भी पढ़ें : बिहार के बाद अब उदयपुर में भी जब्‍त शराब को 'चूहे' पी गए, जब यह बात अदालत को बताई गई तो...

टिप्पणियां

इधर, पीड़ित परिवार ने इस मामले की शिकायत जिला प्रशासन से की है. दरभंगा के उप विकास आयुक्त और प्रभारी जिलाधिकारी कारी प्रसाद ने कहा कि नवजात के परिजनों ने आवेदन दिया है. डीएम के छुट्टी से लौटने के बाद इस मामले में एक समिति बनाकर पूरे मामले की जांच कराई जाएगी. 

(इनपुट : IANS)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement