NDTV Khabar

बीजेपी के बाद अब जेडीयू ने भी कसी कमर, बिहार की सभी 40 लोकसभा सीटों पर बढ़ाएगी जनाधार

जेडीयू नेताओं को उम्मीद है कि नीतीश कुमार और पीएम नरेंद्र मोदी के बीच बातचीत के बाद पार्टी को समानजनक सीटें मिलेंगी.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
बीजेपी के बाद अब जेडीयू ने भी कसी कमर, बिहार की सभी 40 लोकसभा सीटों पर बढ़ाएगी जनाधार

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार. (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. JDU ने भी 40 लोकसभा सीटों पर संगठन को मजबूत करने की बात कही
  2. राज्य कार्यकारिणी की बैठक के बाद पार्टी महासचिव आरसीसी सिंह ने की घोषणा
  3. सिंह ने स्पष्ट किया कि इसका मतलब यह नहीं कि पार्टी अकेले चुनाव लड़ेगी
पटना:

भाजपा द्वारा इस घोषणा के बाद कि वह राज्य की सभी 40 लोकसभा सीटों पर चुनाव को तैयारी करेगी. अब जनता दल यूनाइटेड ने भी ऐलान किया है कि पार्टी राज्य की सभी 40 लोकसभा सीटों पर अपना संगठन मज़बूत करेगी. ये घोषणा पार्टी की राज्य कार्यकारिणी की बैठक के बाद पार्टी महासचिव और सांसद आरसीपी सिंह ने की. हालांकि इसका कोई ऐसा मतलब नहीं कि पार्टी अकेले चुनाव लड़ेगी लेकिन पिछले चुनाव में पार्टी को महज दो लोकसभा सीट पूर्णिया और नालंदा पर जीत मिली थी. हालांकि अभी यह तय नहीं है कि पार्टी के खाते में चुनाव के वक्त कौन सी सीटें आएंगी. पार्टी नेताओं को उम्मीद है कि इस मुद्दे पर नीतीश कुमार और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बीच बातचीत के बाद पार्टी को समानजनक सीटें मिलेंगी.
 
यह भी पढ़ें : क्या नीतीश कुमार बीजेपी के सबसे अच्छे सहयोगी बनना चाहते हैं?
 
शराबबंदी से पीछे हटने का सवाल नहीं
पार्टी की बैठक में जहां राष्ट्रीय अध्यक्ष नीतीश कुमार ने साफ़ किया कि जब तक वो मुख्यमंत्री की कुर्सी पर बैठे हैं, तब तक राज्य में शराबबंदी से पीछे हटाने का कोई सवाल नहीं. नीतीश , शराबबंदी के बाद अब गांधी जयंती से राज्य में दहेज प्रथा और बाल विवाह के खिलाफ भी अभियान शुरू करने वाले हैं. नीतीश और जेडीयू इस बात को लेकर आश्वस्त हैं कि जैसे राज्य में बिजली व्यवस्था का मज़ाक़ उड़ाके भाजपा ने विधानसभा चुनावों में इस मुद्दे पर नीतीश को पूरा श्रेय लेने का मौक़ा दिया वैसे शराबबंदी पर लालू ने अपने बयानों से एक बार फिर इस मुद्दे पर वोट समेटने के लिए उन्हें और उनकी पार्टी को वॉकओवर दे दिया है.

यह भी पढ़ें : अपनी आलोचना से परेशान बिहार सरकार ने नहर के तटबंध टूटने पर आखिरकार दी सफाई


रविवार के संवादाता सम्मेलन में पार्टी के नेता ख़ासकर रामचंद्र प्रसाद सिंह ने पार्टी के पूर्व अध्यक्ष शरद यादव पर हमला बोला. सिंह नीतीश के क़रीबी माने जाते हैं. उन्होंने शरद यादव की प्रस्तावित बिहार यात्रा पर कहा कि उन्हें पहले अपने गृह राज्य मध्य प्रदेश का दौरा करना चाहिए कि आख़िर उनकी वहां कितनी राजनीतिक ज़मीन बची है. बिहार में अब उनका कुछ नहीं बचा ये कहते हुए सिंह ने कहा कि अपने समय उन्होंने कभी मध्य प्रदेश में पार्टी के लिए कुछ नहीं किया. नीतीश और उनके क़रीबी जबसे शरद ने बग़ावती स्वर अख़्तियार किए हैं, हमेशा इस बात का उदाहरण देते हैं कि शरद यादव के समय उनके गृह जिले जबलपुर में पार्टी का कभी खाता नहीं खुला.

टिप्पणियां

VIDEO:JDU की एनडीए में शामिल होने पर लगी औपचारिक मुहर

बिहार कांग्रेस पार्टी में चल रही उठापटक पर पार्टी के नेताओं खाकर राज्य इकाई के अध्यक्ष वशिष्ठ नारायण सिंह ने साफ़ किया कि उनकी पार्टी किसी तोड़-फोड़ के पक्ष में नहीं हैं. ये कांग्रेस पार्टी का आंतरिक मामला हैं और इस पूरे विवाद में अनायास जनता दल यूनाइटेड को घसीटा जा रहा है.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

विधानसभा चुनाव परिणाम (Election Results in Hindi) से जुड़ी ताज़ा ख़बरों (Latest News), लाइव टीवी (LIVE TV) और विस्‍तृत कवरेज के लिए लॉग ऑन करें ndtv.in. आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं.


Advertisement