NDTV Khabar

लालू यादव से मुक्ति पाकर ख़ुश हूं : बिहार के सीएम नीतीश कुमार

नीतीश ने स्वीकार किया कि क़ानून का राज कायम करने में उन्हें काफ़ी मेहनत करनी पड़ रही थी.

1219 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
लालू यादव से मुक्ति पाकर ख़ुश हूं : बिहार के सीएम नीतीश कुमार

बिहार के सीएम नीतीश कुमार.

खास बातें

  1. नीतीश ने राजद का साथ छोड़ा था
  2. राजद से हाथ छुड़ा बीजेपी के साथ सरकार बनाई
  3. नीतीश ने एक बार फिर बताई परेशानी की वजह
पटना: बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा है कि महागठबंधन से निकलकर हर रोज़ लगता है कितना अच्छा काम किया बहुत ठीक किया कि गठबंधन को छोड़ दिया. नीतीश कुमार ने सोमवार को अपने संवाददाता सम्मेलन में दावा किया कि मैंने जो भी निर्णय लिया है, बिहार के हित में लिया है. उन्होंने पहली बार माना कि लालू यादव के साथ सरकार जब चला रहे थे तब उन्हें इस बात की फ़ीड्बैक रहती थी कि बालू  माफ़िया और शराब माफ़िया उभर रहे थे. पुलिस के ऊपर दबाव डाला जा रहा था. नीतीश ने स्वीकार किया कि क़ानून का राज कायम करने में उन्हें काफ़ी मेहनत करनी पड़ रही थी.

लेकिन उन्होंने कहा कि जब लालू यादव के भ्रष्टाचार की इतनी कहानी आ गई तब उन्होंने तय कर लिया कि बहुत हो गया और गठबंधन से पार पा लिया. लेकिन उन्होंने कहा कि जितनी गाली देनी हैं दें. शराबबंदी किया तो उनके पास गए सबको विश्वास में लिया. 21 जनवरी को लालू यादव उनके साथ मानव श्रृंखला में साथ खड़े रहे. लेकिन अब विचार से बिल्कुल उलटाबोल रहे हैं. 

यह भी पढ़ें : नीतीश कुमार ने लोगों के ईमान को बेच दिया, उन्हें खामियाजा भुगतना पड़ेगा : शरद यादव

बालू खनन पर लालू यादव के बयान पर उन्होंने कहा कि ठेके जितना बालू निकालना है उससे ज़्यादा निकाला, पर्यावरण से खिलवाड़ा किया गया और अब चिल्ला रहे हैं. लगता है कि उनकी माफ़िया से मिलीभगत है.

VIDEO: नीतीश कुमार की सफाई

अपने बारे में मीडिया में छपी ख़बरों के बारे में नीतीश कुमार ने कहा कि बिहार की सेवा कर रहे हैं और राज्य की सेवा करना देश की सेवा करना है. सब लिखते हैं कि 'नीतीश का करियर गया'. इस पर नीतीश कुमार ने कहा कि लड्डू मिठाई बाँटिये, क्या फ़र्क़ पड़ता है.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement