NDTV Khabar

भागलपुर हिंसा: केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे ने कहा, 'आरोप साबित होगा तो राजनीति से संन्यास ले लूंगा'

केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे के इस्तीफे की मांग को लेकर बिहार विधानसभा में पिछले दो दिनों  से कारवाई नहीं चल पा रही है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
भागलपुर हिंसा:  केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे ने कहा, 'आरोप साबित होगा तो राजनीति से संन्यास ले लूंगा'

केंद्रीय मंत्री अश्विनी कुमार चौबे ( फाइल फोटो )

खास बातें

  1. अर्जित शाश्वत के ऊपर एक प्राथमिकी दर्ज करायी गयी हैं
  2. चौबे अपने बेटे के बचाव में खुल कर मैदान में कूद गये हैं
  3. फिलहाल कोई गिरफ्तारी की कारवाई नहीं हुई है
बिहार:

केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे के इस्तीफे की मांग को लेकर बिहार विधानसभा में पिछले दो दिनों  से कारवाई नहीं चल पा रही है. चौबे के पुत्र और भाजपा नेता अर्जित शाश्वत के ऊपर एक प्राथमिकी दर्ज करायी गयी हैं, लेकिन चौबे अपने बेटे के बचाव में खुल कर मैदान में कूद गये हैं. केंद्रीय मंत्री होने के बावजूद अश्विनी चौबे ने उल्टे राज्य सरकार के ऊपर सवाल खड़ा किया है. उनके अनुसार, क्या वन्दे मातरम कहना गैर कानूनी है या जय श्री राम कहना. चौबे ने आरोप लगाया है कि स्थानीय प्रशासन अपनी नाकामियों को छिपाने के लिए उनके बेटे के खिलाफ मामला दर्ज कराया है.

यह भी पढ़ें: बिहार: राम विलास पासवान को मनाने पहुंचे धर्मेंद्र प्रधान और भूपेंद्र यादव

टिप्पणियां

भागलपुर जिला प्रशासन का कहना है कि अभिजीत शाश्वत बिना किसी अनुमति के ना जुलूस ले जा रहे थे, बल्कि उनके व्यवहार के कारण सांप्रदायिक तनाव भी फैला. हालांकि, इस सम्बन्ध में फिलहाल कोई गिरफ्तारी की कार्रवाई नहीं हुई है.


VIDEO: लालू जी जल्द ही बाहर आएंगे: राबड़ी देवी
लेकिन अश्विनी चौबे का कहना है कि अगर पुलिस अपने आरोपों को साबित कर दे, तब वो अपनी राजनीति से सन्यास ले लेंगे. हालांकि, बिहार भाजपा के कोई वरिष्ठ नेता इस मुद्दे पर बयानबाजी नहीं कर रहे हैं.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों (Election News in Hindi), LIVE अपडेट तथा इलेक्शन रिजल्ट (Election Results) के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement