NDTV Khabar

NDA से अलग होने पर टूट की कगार पर कुशवाहा की RLSP, अब 'सेनापति' ने पार्टी छोड़ थामा JDU का दामन

भले ही एनडीए से नाता तोड़ राष्ट्रीय लोक समता पार्टी (आरएलएसपी) के मुखिया उपेंद्र कुशवाहा यूपीए में शामिल होकर महागठबंधन का हिस्सा हो गए हों, मगर उनकी मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
NDA से अलग होने पर टूट की कगार पर कुशवाहा की RLSP, अब 'सेनापति' ने पार्टी छोड़ थामा JDU का दामन

उपेंद्र कुशवाहा (फाइल फोटो)

पटना:

भले ही एनडीए से नाता तोड़ राष्ट्रीय लोक समता पार्टी (आरएलएसपी) के मुखिया उपेंद्र कुशवाहा यूपीए में शामिल होकर महागठबंधन का हिस्सा हो गए हों, मगर उनकी मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं. राष्ट्रीय लोक समता पार्टी (रालोसपा) के वरिष्ठ नेता और बिहार के पूर्व मंत्री भगवान सिंह कुशवाहा ने शुक्रवार को रालोसपा छोड़कर नीतीश कुमार की पार्टी जनता दल (युनाइटेड) का दामन थाम लिया. भगवान सिंह कुशवाहा ने जद (यू) के प्रदेश अध्यक्ष वशिष्ठ नारायण सिंह की मौजूदगी में अपने समर्थकों के साथ जद (यू) की सदस्यता ग्रहण की. नीतीश खेमे में शामिल होते ही उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) राज्य में अगले वर्ष होने वाले लोकसभा चुनावों में जीत दर्ज करेगी. 

महागठबंधन में कौन होगा प्रधानमंत्री पद का दावेदार, इसको लेकर क्या बोले तेजस्वी यादव ?


 

9gh0p35भगवान सिंह कुशवाहा ने थामा जदयू का दामन

बिहार के पूर्व मंत्री भगवान सिंह कुशवाहा ने कहा,‘उपेन्द्र कुशवाहा के राजग छोड़कर संप्रग में शामिल होने के बाद मैंने आरएलएसपी छोड़ दी है और आरएलएसपी के 35 राज्य स्तरीय पदाधिकारियों और 1200 कार्यकर्ताओं के साथ जद (यू) में शामिल हो रहा हूं.' उन्होंने कहा,‘मैं जब आरएलएसपी में शामिल हुआ तो उस समय मेरी शर्त थी कि पार्टी राजग के साथ बनी रहनी चाहिए. मैंने उपेन्द्र कुशवाहा का राजग के साथ बना रहना सुनिश्चित करने के वास्ते अपनी तरफ से भरपूर कोशिश की लेकिन नीतीश कुमार के राजग में शामिल होने के बाद उन्होंने (उपेन्द्र) असहज महसूस करना शुरू कर दिया था.'    

उपेंद्र कुशवाहा बोले राम विलास पासवान से- भाईसाहब.. मौसम पहचान कर अच्छा किया, नहीं खुलेगा खाता

उन्होंने कहा कि उनके समर्थक मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के नेतृत्व में बिहार के विकास की कहानी का हिस्सा बने रहना चाहते हैं. उन्होंने कहा,‘2019 लोकसभा चुनाव एक चुनौती है और 2020 (राज्य में विधानसभा चुनाव) एक बहुत बड़ी चुनौती है लेकिन हम 2019 और 2020 दोनों चुनावों को जीतेंगे. इससे पूर्व जद(यू) के प्रमुख और राज्यसभा सांसद वशिष्ठ नारायण सिंह ने भगवान सिंह कुशवाहा और उनके 1200 समर्थकों तथा कार्यकर्ताओं का पार्टी में स्वागत किया और कहा कि इससे पार्टी मजबूत होगी.  (इनपुट भाषा से)

टिप्पणियां

 

VIDEO:  महागठबंधन में शामिल हुए उपेंद्र कुशवाहा



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement