बिहार के बारह जिलों में बाढ़ का कहर, अबतक 25 लोगों की मौत, 25 लाख से ज्यादा लोग प्रभावित

बिहार में बाढ़ का कहर जारी है. अब तक 25 लोगों की मौत हो चुकी है.  राज्य के बारह ज़िलों के 546 पंचायतों में 25 लाख से अधिक लोग बाढ़ से प्रभावित हैं. 

बिहार के बारह जिलों में बाढ़ का कहर, अबतक 25 लोगों की मौत, 25 लाख से ज्यादा लोग प्रभावित

बिहार के बारह ज़िलों के 546 पंचायतों में 25 लाख से अधिक लोग बाढ़ से प्रभावित हैं.

खास बातें

  • बिहार में भारी बारिश के बाद बाढ़ का कहर
  • राज्य के 12 जिलों में बाढ़ ने बरपाया कहर
  • अबतक 25 लोगों की मौत, 25 लाख लोग प्रभावित
पटना:

बिहार में बाढ़ का कहर जारी है. अब तक 25 लोगों की मौत हो चुकी है. राज्य के बारह ज़िलों के 546 पंचायतों में 25 लाख से अधिक लोग बाढ़ से प्रभावित हैं. लोग अपने घर छोड़कर सुरक्षित स्थानों पर शरण लिए हुए हैं. इस बीच मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने सोमवार को बाढ़ प्रभावित इलाकों का हवाई सर्वेक्षण किया. बिहार के जिन इलाकों में बाढ़ का सबसे ज्यादा असर है, उनमें अररिया, किशनगंज, सुपौल, दरभंगा, शिवहर, सीतामढ़ी, पूर्वी चंपारण, मधुबनी, मुजफ्फरपुर, पूर्णिया और सहरसा जिला शामिल हैं. मुख्यमंत्री ने लगातार दूसरे दिन बाढ़ प्रभावित इलाकों का हवाई सर्वेक्षण किया. मुख्यमंत्री ने सोमवार को अररिया जिले के फारबिसगंज, सिकटी, पलासी, जोकीहाट, किशनगंज जिले के ठाकुरगंज, कोचाधामन, टेढ़ागाछ और कटिहार जिले के बलरामपुर में बाढ़ प्रभावित इलाकों का विस्तृत हवाई सर्वेक्षण कर स्थिति का जायजा लिया.  

बिहार में बाढ़ का कहर जारी, ड्रम से बनी नाव में बैठकर विदा हुई दुल्हन, यहां देखें VIDEO

इसके बाद पूर्णिया के चूनापुर हवाईअड्डे पर पूर्णिया, अररिया, कटिहार एवं किशनगंज जिले के जिलाधिकारियों के साथ बैठक कर बाढ़ एवं बचाव व राहत कार्य के बारे में विस्तृत समीक्षा की. मुख्यमंत्री ने बाढ़ प्रभावित सभी क्षेत्रों में राहत एवं बचाव कार्य तेज करने का निर्देश दिया है, ग्रामीण कार्य विभाग एवं पथ निर्माण विभाग के अधिकरियों को बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का हवाई सर्वेक्षण कर स्थिति का जायजा लेने और संपर्क से कटे हुए स्थानों की संपर्कता तुरंत बहाल करने का निर्देश दिया है. हवाई सर्वेक्षण के दौरान मुख्य सचिव दीपक कुमार, जल संसाधन विभाग के अपर मुख्य सचिव अरुण कुमार, आपदा प्रबंधन विभाग के प्रधान सचिव प्रत्यय अमृत और मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव चंचल कुमार भी साथ थे.  

बिहार के 6 जिलों में बाढ़ ने बरपाया कहर, रेल की पटरियां पानी में डूबीं

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

इस बीच नेपाल से आने वाली नदियों का जलस्तर बढ़ता देखा जा रहा है. बिहार जल संसाधन विभाग के प्रवक्ता अरविंद कुमार सिंह ने सोमवार को बताया कि बागमती ढेंग, सोनाखान, डूबाधार, कनसार और बेनीबाद में खतरे के निशान से ऊपर बह रही है, वहीं कमला बलान नदी जयनगर व झंझारपुर में तथा महानंदा ढेंगराघाट व झावा में खतरे के निशान से ऊपर बह रही है. आपदा प्रबंधन विभाग का दावा है कि बाढ़ प्रभावित इलाकों में राहत एवं बचाव कार्य जारी है. राहत और बचाव के लिए एनडीआरएफ और एसडीआरएफ की 26 टीमें लगाई गई हैं. आपदा प्रबंधन विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि बाढ़ प्रभावित इलाकों में 196 राहत शिविर स्थापित किए गए हैं. मुजफ्फरपुर जिले में बागमती के उफानाने से कटरा व औराई में बाढ़ ने भयावह रूप ले लिया है. (इनपुट- IANS) 

VIDEO: तेजस्‍वी यादव ने कहा, 'बीजेपी के साथ असहज महसूस कर रहे हैं नीतीश'