बिहार: घर के बाहर पटाखे चला रहे थे बेटे, अपराधियों ने अंदर घुसकर माता-पिता और बहन का किया मर्डर

पुलिस उपाधीक्षक कुंदन सिंह ने सोमवार को बताया कि मृतक के परिजनों का आरोप है कि इस घटना में आपसी विवाद है.

बिहार: घर के बाहर पटाखे चला रहे थे बेटे, अपराधियों ने अंदर घुसकर माता-पिता और बहन का किया मर्डर

प्रतीकात्मक तस्वीर.

बेगूसराय:

बिहार के बेगूसराय जिले के मंझौल थाना क्षेत्र में अपराधियों ने दीवाली की रात यानी रविवार की रात एक घर में घुसकर एक ही परिवार के तीन लोगों की हत्या कर दी. हत्या का कारण आपसी विवाद बताया जा रहा है. पुलिस के एक अधिकारी ने सोमवार को कहा कि मचहा गांव निवासी कुणाल सिंह के घर में रात अपराधियों ने घुसकर कुणाल सिंह, उनकी पत्नी कंचन देवी एवं उनकी पुत्री सोनम कुमारी की गोली मारकर हत्या कर दी. गनीमत रही कि उस दौरान कुणाल सिंह के दो पुत्र घर के बाहर पटाखा चला रहे थे और उनकी जान बच गई.

पुलिस उपाधीक्षक कुंदन सिंह ने सोमवार को बताया कि मृतक के परिजनों का आरोप है कि इस घटना में आपसी विवाद है. उन्होंने बताया कि मृतक के पुत्र शिवम और सत्यम को भी अपराधियों ने निशना बनाया परंतु 'मिसफायर' के कारण उनकी जान बच गई. उन्होंने कहा कि हत्या का कारण पारिवारिक विवाद है. हत्या का आरोप कुणाल सिंह के भाई विकास कुमार पर लगाया गया है. 

राजनीतिक दलों को सबक सिखा गया बिहार उपचुनाव

पुलिस सूत्रों के मुताबिक कुणाल सिंह के चाचा की चार वर्ष पूर्व हत्या कर दी गई थी और उस हत्याकांड में कुणाल सिंह की चाची चश्मदीद गवाह थी. हत्याकांड में गवाह होने की वजह से तीन वर्ष पूर्व कुणाल सिंह के चाची की भी हत्या कर दी गई और उसमें कुणाल सिंह गवाह थे. चाचा-चाची की हत्या का आरोप भी विकास कुमार पर ही है. वह हाल ही में जमानत पर छूटकर जेल से बाहर आया था.

पुलिस उपाधीक्षक ने बताया कि पुलिस ने तीनों शवों को कब्जे में कर पोस्टमार्टम के लिए अस्पताल भेज दिया गया है तथा पूरे मामले की छानबीन की जा रही है. 

क्या लोक जनशक्ति पार्टी की कमान चिराग पासवान को मिलने वाली है?



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)
 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com