NDTV Khabar

MLC के साथ छेड़छाड़ मामला : BJP ने आरोपी एमएलसी को किया निलंबित

715 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
MLC के साथ छेड़छाड़ मामला : BJP ने आरोपी एमएलसी को किया निलंबित

पत्नी के साथ छेड़छाड़ की घटना पर बीजेपी विधायक नीरज कुमार सिंह बब्लू ने अपनी ही पार्टी के MLC के साथ मारपिटाई की थी (फाइल फोटो)

पटना: बीजेपी ने अपने एक विधायक की पत्नी और बिहार विधान परिषद सदस्या के साथ छेड़छाड़ का आरोप लगने पर आरोपी एमएलसी लालबाबू प्रसाद को पार्टी की प्राथमिकता सदस्यता से निलंबित कर दिया है. सभापति अवधेश नारायण सिंह ने इस मामले में स्वत: संज्ञान लेते हुए मामले को जांच के लिए सदन की आचार समिति को सौंप दिया है.

शुक्रवार को बिहार विधान परिषद की  कार्यवाही शुरू होने के पहले प्रतिपक्ष के नेता सुशील कुमार मोदी ने ट्वीट के जरिए बताया कि लालबाबू को पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से निलंबित कर दिया गया है. उन्होंने बताया कि इस मामले में पार्टी ने लालबाबू को कारण बताओ नोटिस जारी किया है. पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष रहे लालबाबू को बीजेपी द्वारा गुरुवार की देर शाम जारी अपनी प्रदेश कार्यसमिति में भी स्थान नहीं दिया गया था.

बिहार विधान परिषद की कार्यवाही शुरू होने पर सभापति ने कहा कि गत 30 मार्च को सदन के सदस्य लालबाबू प्रसाद के आचरण के संबंध में सदस्या रीना देवी और अन्य कई सदस्यों ने आसन का ध्यान आकृष्ट किया था. इस प्रकरण पर स्वत: संज्ञान लिया. इस मामले को सदन की आचार समिति को जांच के लिए सौंपा गया है. सभापति ने कहा कि समिति अपनी जांच और निर्णय से सदन को प्रतिवेदित करेगी. उन्होंने लालबाबू प्रसाद को परिषद की पर्यावरण एवं प्रदूषण नियंत्रण समिति के अध्यक्ष पद से भी बर्खास्त कर दिया. सभापति द्वारा इस संबंध में नियमन दिए जाने के समय नूतन सिंह और लालबाबू प्रसाद दोनों सदन में मौजूद नहीं थे.

बता दें कि गुरुवार को चर्चा चली कि बिहार विधान परिषद से बिहार विधान सभा की ओर जाने वाले गलियारे में घटी मारपीट की घटना के दौरान बीजेपी के कुछ सदस्यों ने बीच बचाव किया था. इस मामले में औपचारिक तौर पर किसी पक्ष की ओर से शिकायत नहीं की गई.

यह भी पढ़ें- महिला MLC के साथ छेड़छाड़ पर बीजेपी विधायक ने अपनी ही पार्टी के MLC को धुना

गुरुवार को बिहार विधान परिषद की कार्यवाही शुरू होने पर जदयू सदस्या रीना देवी के सदन में इस मामले को उठाए जाने पर राजद विधायक दल की नेत्री राबड़ी देवी ने भी अपनी सीट से खडे़ होकर रीना की बात का समर्थन करते हुए उचित कार्रवाई की मांग की थी.

उपमुख्यमंत्री तेजस्वी प्रसाद यादव ने जहां इस मामले में बीजेपी द्वारा कार्रवाई किए जाने में देरी किए जाने पर बिहार विधान परिषद के प्रतिपक्ष के नेता सुशील कुमार मोदी पर लालबाबू जैसे लोगों को संरक्षण देने का आरोप लगाया था.

कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष और शिक्षा मंत्री अशोक चौधरी ने सुशील कुमार मोदी पर पूर्व में इस मामले को लीपापोती करने और सदन को गुमराह करने का आरोप लगाते हुए कहा कि सुशील ने कल कहा था कि दोनों पक्षों से बात करने पर किसी तरह की घटना घटने की बात सामने नहीं आई है पर पिछले 24 घंटे के भीतर ऐसी क्या परिस्थिति उत्पन्न हो गई कि लालबाबू को निलंबित करना पड़ा.

 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement