NDTV Khabar

उपचुनाव में मिली हार की समीक्षा चाहती है बिहार भाजपा

भाजपा पांच विधानसभा क्षेत्रों में केवल एक किशनगंज सीट पर चुनाव लड़ी थी जहां दस हज़ार वोट के अंतर से उसके प्रत्याशी की हार हुई.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
उपचुनाव में मिली हार की समीक्षा चाहती है बिहार भाजपा

प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर

पटना:

बिहार में भारतीय जनता पार्टी चाहती है कि बिहार के उप चुनाव में हार की समीक्षा की जानी चाहिए. पार्टी के बिहार इकाई के अध्यक्ष संजय जयसवाल का कहना है कि जनता ने जो अपना निर्णय दिया है उस पर सबको विचार करना चाहिए. उन्होंने ये भी कहा कि जो भी कमियां रह गयी हैं उसे हम ठीक करेंगे. हालांकि भाजपा पांच विधानसभा क्षेत्रों में केवल एक किशनगंज सीट पर चुनाव लड़ी थी जहां दस हज़ार वोट के अंतर से उसके प्रत्याशी की हार हुई. इस पर संजय जयसवाल का कहना था कि इस बार हार के बावजूद जितना वोट आया वो वहां के चुनावी इतिहास में भाजपा को नहीं मिला था लेकिन उस इलाक़े के सामाजिक समीकरण पक्ष में ना रहने के कारण हार हुई. लेकिन अगली बार उम्मीद है कि जीत हमारी होगी.

Bihar Bypolls: बिहार में ओवैसी की पार्टी AIMIM को मिली जीत तो गिरिराज सिंह का ऐसा आया Reaction...


शनिवार के संवादाता सम्मेलन में संजय जयसवाल ने यह भी संकेत दे दिया कि जनता दल यूनाइटेड (जेडीयू) के प्रत्याशी अजय सिंह को दौरंदा सीट से हराने वाले व्यासदेव सिंह को वापस भाजपा में लेने में कोई दिक्कत नहीं है. उनके अनुसार में कोई भी व्यक्ति आने के लिए स्वतंत्र है और जो भी व्यक्ति आता है उसका भाजपा में स्वागत है.

बिहार उपचुनाव में तीन सीटें हारने के बाद भी क्यों 'मुस्कुरा' रहे हैं नीतीश कुमार

बिहार भाजपा के अध्यक्ष का कहना था कि वयास भारतीय जनता पार्टी के जिला उपाध्यक्ष थे और वो यहां मिलने आए थे और वो मिले हैं, मिलते ही रहेंगे. जनता ने जो भी फ़ैसला किया है वो सभी को मंज़ूर करना चाहिए, वो पक्ष में हो या विपक्ष में.

टिप्पणियां

VIDEO: नीतीश कुमार की सुशासन बाबू की छवि बनाने में जुटी JDU, आया नया नारा



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement