NDTV Khabar

बिहार : पोस्टमार्टम के लिए कचरा गाड़ी में ले जाया गया महिला का शव, जांच के आदेश

एसकेएमसीएच अस्पताल के अंदर एक पार्क के नजदीक एक महिला ने दम तोड़ दिया था. महिला की मौत के बाद अस्पताल के दो कर्मचारी कचरा उठाने वाली एक गाड़ी में शव को पोस्टमार्टम के लिए ले गए.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
बिहार : पोस्टमार्टम के लिए कचरा गाड़ी में ले जाया गया महिला का शव, जांच के आदेश

गरीब महिला के शव को कचरा ढोने वाले हथठेले में डालकर पोस्टमार्टम के लिए ले जाया गया

खास बातें

  1. यह घटना मुज्जफरपुर के एसकेएमसीएच अस्पताल की है
  2. शव को पोस्टमार्टम के लिए कचरा गाड़ी में ले जाया गया
  3. DM ने घटना की जांच के आदेश दिए है, जताया अफसोस
मुजफ्फरपुर: भले ही हम विकसित और आधुनिक समाज होने का दावा करते रहें, लेकिन इसी समाज से आए दिन ऐसी घटनाएं सामने आती रहती हैं, जिससे इंसानियत शर्मशार हो जाती है. यह घटना बिहार के मुजफ्फरपुर की है. यहां के अस्पताल में एक गरीब महिला की मौत हो गई. मौत के बाद महिला के शव के पोस्टमार्टम की बारी आई. अस्पताल से पोस्टमार्टम हाउस तक महिला के शव को कूड़ा डालने वाले हथठेला में डालकर ले जाया गया. इस पूरे घटनाक्रम के लोगों ने अपने मोबाइल से फोटो तो खींचे, लेकिन किसी ने इसका विरोध नहीं किया.

जानकारी के मुताबिक, दो सप्ताह से अधिक समय तक बीमारी से जूझने के बाद बुधवार को एसकेएमसीएच अस्पताल के अंदर एक पार्क के नजदीक इस महिला ने दम तोड़ दिया था. महिला की मौत के बाद अस्पताल के दो कर्मचारी कचरा उठाने वाली एक गाड़ी में शव को पोस्टमार्टम के लिए ले गए. मीडिया में इस घटना के उछाले जाने पर लोगों ने हैरानी जताई.

मीडिया में फोटो आने पर जिला मजिस्ट्रेट ने बुजुर्ग महिला के शव को पोस्टमार्टम के लिए कचरा उठाने वाले ठेले से श्रीकृष्ण मेडिकल कॉलेज और अस्पताल (एसकेएमसीएच) तक ले जाने के मामले की जांच के आदेश दिए हैं. जिला मजिस्ट्रेट धर्मेन्द्र सिंह ने कहा, ‘हमने दुर्भाग्यपूर्ण घटना की जांच का आदेश दिया है. लापरवाही बरतने के लिए दोषी पाए जाने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी.’

टिप्पणियां
 सिविल सर्जन ललिता सिंह ने भी घटना पर दुख व्यक्त किया और कहा कि मामले की जांच की जा रही है।
 उन्होंने कहा कि एसकेएमसीएच के पास शवों को ले जाने वाले कई वाहन हैं और गरीब महिला का शव पोस्टमार्टम के लिए लाए जाने के लिए इनकी सेवा ली जा सकती थी. 


  (इनपुट भाषा से भी)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
 Share
(यह भी पढ़ें)... क्या बीजेपी वाकई ढलान पर है?

Advertisement