NDTV Khabar

बिहार : मदरसा में पढ़ रहे विद्यार्थियों के लिए खुशखबरी, प्रोत्साहन राशि योजना पर कैबिनेट की मुहर

फ़िलहाल बिहार में मैट्रिक में प्रथम श्रेणी से पास करने वाले छात्रों को दस हज़ार और इंटरमीडिएट में प्रथम श्रेणी वाले छात्रों को पंद्रह हज़ार की राशि दी जाती है.

189 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
बिहार : मदरसा में पढ़ रहे विद्यार्थियों के लिए खुशखबरी, प्रोत्साहन राशि योजना पर कैबिनेट की मुहर

बिहार : मदरसा में पढ़ रहे विद्यार्थियों के लिए खुशखबरी (प्रतीकात्मक फोटो)

पटना: बिहार में मदरसा में पढ़ रहे छात्रों के लिए एक ख़ुशख़बरी है. राज्य में भले ही मुख्यमंत्री नीतीश कुमार भाजपा के सहयोग से सरकार चला रहे हों लेकिन मदरसा से मौलवी और फ़ौकानिया की पढ़ाई कर रहे छात्रों को प्रोत्साहन राशि की योजना पर राज्य कैबिनेट ने अपनी मुहर लगा दी. फ़िलहाल बिहार में मैट्रिक में प्रथम श्रेणी से पास करने वाले छात्रों को दस हज़ार और इंटरमीडिएट में प्रथम श्रेणी वाले छात्रों को पंद्रह हज़ार की राशि दी जाती है. राज्य सरकार ने अल्पसंख्यक कल्याण विभाग के इस प्रस्ताव पर मुहर लगाते हुए वर्तमान वित्तीय वर्ष से इसे लागू करने का फ़ैसला किया है.

दीनी के साथ दुनियावी तालीम भी, वर्चुअल क्लास रूम से जुड़े दो मदरसे

नीतीश कुमार की सरकार के इस फ़ैसले से निश्चित रूप से मुस्लिम समुदाय के लोगों में एक ख़ुशी की लहर दौड़ी होगी क्योंकि जब से वो भाजपा के साथ गये हैं तो उनके मन में नीतीश कुमार के प्रति एक अनिश्चितता का माहौल है. हालांकि भाजपा के मंत्रियों ने ऐसी योजना का कभी विरोध नहीं किया लेकिन राजद की तरफ़ से हमेशा एक आरोप लगाया जाता हैं कि नीतीश कुमार अब मुस्लिम और अल्पसंख्यक समुदाय के प्रति व्यवहार पहले जैसा नहीं रहा.

टिप्पणियां
VIDEO- दारुल-उलूम निज़ामिया में 1947 से फहराया जाता रहा है झंडा


राजद नेता शिवानंद तिवारी ने मंगलवार को एक सरकारी कार्यक्रम में नीतीश कुमार द्वारा बग़ल की मस्जिद से अजान के बावजूद भाषण जारी रखने का हवाला दिया. तिवारी के अनुसार नीतीश कुमार ने अपने पार्टी में ये नियम बनाया था कि कभी भी नमाज़ या अजान के समय भाषण को जारी न रखा जाए लेकिन अब वह ख़ुद यह नियम भूल गए हैं.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
189 Shares
(यह भी पढ़ें)... देश में पानी और तेल को लेकर आग 

Advertisement