NDTV Khabar

बाढ़ से बेहाल बिहार में अब तक 202 लोगों की मौत, 1.21 करोड़ की आबादी प्रभावित

बाढ़ प्रभावित इलाकों से 6.50 लाख से ज्यादा लोगों को निकालकर सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया है.

671 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
बाढ़ से बेहाल बिहार में अब तक 202 लोगों की मौत, 1.21 करोड़ की आबादी प्रभावित

बिहार के 18 जिलों में करीब 1.21 करोड़ की आबादी बाढ़ से प्रभावित है

पटना: बिहार के 18 जिलों में बाढ़ की स्थिति लगातार गंभीर बनी हुई है. पिछले 24 घंटे के दौरान राज्य के विभिन्न इलाकों में बाढ़ से 49 लोगों की मौत हुई है, जिससे बाढ़ से मरने वालों की संख्या बढ़कर कुल 202 तक पहुंच गई है. करीब 1.21 करोड़ आबादी बाढ़ से प्रभावित है. अररिया में सबसे ज्यादा 42 लोगों की मौत हुई है, जबकि किशनगंज में 11, पूर्णिया में नौ, कटिहार में सात, पूर्वी चंपारण में 11, पश्चिमी चंपारण में 29, दरभंगा में 10, मधुबनी में 12, सीतामढ़ी में 31, शिवहर में चार, सुपौल में 13, मधेपुरा में नौ, गोपालगंज व सहरसा में चार-चार, मुजफ्फरपुर में एक, खगड़िया में तीन तथा सारण में दो व्यक्ति की मौत हुई है.

यह भी पढ़ें: एनडीआरएफ की नौका में हुआ एक और बच्चे का जन्म

बाढ़ प्रभावित इलाकों से 6.50 लाख से ज्यादा लोगों को निकालकर सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया है. इन क्षेत्रों में 1,336 राहत शिविर खोले गए हैं, जिसमें करीब 4.22 लाख से ज्यादा लोग शरण लिए हुए हैं. 1,879 सामुदायिक रसोई खोली गई है, जिसमें लोगों को लंगर की तरह खाना खिलाया जा रहा है. आपदा प्रबंधन विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि प्रभावित जिलों में लगातार सेना, एनडीआरएफ और एसडीआरएफ की टीम लगी हुई है. इन 18 जिलों में एनडीआरएफ की 28 टीम के 1,152 जवान अपनी 118 नौकाओं और एसडीआरएफ की 16 टीम के 446 जवान अपनी 92 नौकाओं तथा सेना के 630 जवान एवं 70 नौकाओं के साथ राहत एवं बचाव कार्य में लगे हुए हैं.

यह भी पढ़ें: बिहार में बाढ़ का क़हर, सरकार ने जारी किया हेल्‍पलाइन नंबर

एनडीआरएफ और एसडीआरएफ के साथ डॉक्टरों की टीम भी प्रभावित इलाकों में तैनात है. इसके अलावे कई सरकारी और निजी नावों को भी राहत और बचाव कार्य में लगाया गया है. राहत की बात है कि पिछले 24 घंटे के दौरान राज्य के सीमांचल क्षेत्रों में कहीं भी बारिश नहीं हुई है. सीमांचल के क्षेत्रों में बाढ़ प्रभावित इलाकों से पानी घटने की सूचना है.

VIDEO: टापू में तब्दील हुआ मधुबनी का गांव
सुगौली एवं आसपास के इलाके तथा पश्चिम चंपारण के गौनहा, चनपटिया, नरकटियागंज, पूर्णिया जिले के बायसी अनुमंडल, अररिया तथा किशनगंज के प्रभावित क्षेत्रों में हे​लीकॉप्टर के माध्यम से 49 खेप में 19,583 पैकेटों में कुल 78 हजार 334 किलोग्राम सूखा राशन एयर ड्रॉप किया गया है.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement