NDTV Khabar

अपनी आलोचना से परेशान बिहार सरकार ने नहर के तटबंध टूटने पर आखिरकार दी सफाई

लल्लन सिंह ने एक बयान जारी कर सरकार की ओर से सफाई दी है. उन्होंने कहा है कि बटेश्वरस्थान गंगा पम्प नहर परियोजना को, योजना आयोग भारत सरकार द्वारा वर्ष 1977 में स्वीकृति प्रदान की गई.

10 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
अपनी आलोचना से परेशान बिहार सरकार ने नहर के तटबंध टूटने पर आखिरकार दी सफाई

फाइल फोटो

खास बातें

  1. बिहार के जलसंसाधन मंत्री ललन सिंह ने नहर के तटबंध टूटने पर सफाई दी है.
  2. बिहार में नहर के उद्घाटन से पहले ही नहर के तटबंध टूट गए.
  3. लल्लन सिंह ने एक बयान जारी कर सरकार की ओर से सफाई दी है.
पटना: बिहार के जलसंसाधन मंत्री लल्लन सिंह ने नहर के तटबंध टूटने पर सफाई दी है. बिहार में नहर के उद्घाटन से पहले ही नहर का तटबंध टूट गया. इससे राज्य और देश में राजनीति शुरू हो गई और आरोप-प्रत्यारोप का दौर भी शुरू हो गया. लल्लन सिंह ने एक बयान जारी कर सरकार की ओर से सफाई दी है. उन्होंने कहा है कि बटेश्वरस्थान गंगा पम्प नहर परियोजना को, योजना आयोग भारत सरकार द्वारा वर्ष 1977 में स्वीकृति प्रदान की गई. वर्ष 2008 में 389.31 करोड़ रुपये की लागत से प्रथम पुनरीक्षित योजना की प्रशासनिक स्वीकृति प्राप्त हुई.

इस योजना के तहत नहरों का निर्माण लगभग 20 वर्ष पूर्व कराया गया है. योजना के पम्प हाउस-1 (प्रथम स्टेज लिफ्ट 17 मीटर) एवं पम्प हाउस-2 (द्वितीय स्टेज लिफ्ट 27 मीटर) के जीर्णोद्धार का कार्य इस वित्तीय वर्ष में कराया गया है. दिनांक 19.09.2017 को ट्रायल के दरम्यान नहर में पानी छोड़े जाने से परियोजना के उच्च स्तरीय मुख्य नहर के वि.दू. 5.35 के समीप नहर का बायां बांध लगभग 15 फीट की लम्बाई में क्षतिग्रस्त हो गया.

यह भी पढे़ं : बिहार में नहर के तटबंध टूटने के मामले पर पार्टी नेताओं से बात करेंगे अमित शाह

इस स्थल पर एनटीपीसी, कहलगॉव द्वारा अंडर पास संरचना का निर्माण कराया गया है. इस संरचना में विंग वॉल एवं रिटर्न वॉल का प्रावधान नहीं रहने के कारण नहर क्षतिग्रस्त हुई है. विभाग द्वारा तत्काल इसकी मरम्मत करा दी गई है, इससे किसी प्रकार के जान-माल की क्षति नहीं हुई है.
 
VIDEO : बिहार के कहलगांव में सीएम नीतीश के उद्घाटन से पहले ही टूटा बांध
भागलपुर में उद्घाटन से पहले नहर के टूटने पर बिहार के पूर्व उप मुख्यमंत्री और विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर जमकर निशाना साधा. तेजस्वी ने तंज कसते हुए कहा कि 'नीतीश कुमार की अगुवाई में बिहार में भ्रष्टाचार की भयावह गंगा बह रही है. इस भ्रष्टाचार रूपी गंगा का प्रवाह इतना तेज है कि बड़े-बड़े घोटाले बांध तोड़ रहे हैं. मंगलवार को 828 करोड़ रुपये की लागत से भागलपुर के कहलगांव में बना बांध और नहर टूट गई.'


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement