एक हजार स्कूलों में सरकार जल्द शुरू करने जा रही है यह योजना, लाभांवित होंगे छात्र

9वीं और10वीं के छात्र अपने करियर संबंधित तमाम जानकारी ले पाएंगे.  

एक हजार स्कूलों में सरकार जल्द शुरू करने जा रही है यह योजना, लाभांवित होंगे छात्र

प्रतीकात्मक फोटो

खास बातें

  • अलग-अलग जिलों से चुने गए हैं सभी स्कूल
  • पहले भी शुरू की जा चुकी है इस तरह की योजना
  • छात्रों के लिए खासी महत्वपूर्ण मानी जा रही है सरकार की यह पहल
पटना:

सरकारी स्कूलों में पढ़ने वाले छात्रों को करियर संबंधी जानकारी के लिए राज्यभर के एक हजार स्कूलों में करियर गाइडेंस सेल खोलने की तैयारी में है. इसके लिए अभी तक दस जिलों का चयन भी किया जा चुका है. इस सेल से 9वीं और10वीं के छात्र अपने करियर संबंधित जानकारी ले पाएंगे.  

यह भी पढ़ें: बिहार : पैक्स में आरक्षण के मुद्दे पर लालू यादव ने दिया यह बयान

सेल में छात्रों की जरूरत के अनुसार जॉब गार्ड भी रखें जायेंगे. गार्ड का काम छात्रों को अलग-अलग करियर विकल्प के बारे में बताने का होगा. बिहार सरकार इस पहल को यूनिसेफ की मदद से शुरू करने की तैयारी में है. सरकार इस पहल को दिसंबर से शुरू करने की तैयारी में है.  
पहले भी चलाया गया प्रोग्राम
माध्यमिक शिक्षा परिषद और यूनिसेफ की ओर से 2015 में लाइफ स्कील्स और करियर काउंसिलिंग प्रोग्राम शुरू करने की योजना बनी. 2016 में इसे लागू किया गया. अब 22 नवंबर को इसे समाप्त कर दिया जाएगा. इस मौके पर जिस विद्यालय में इसे सबसे अच्छे तरीके से चलाया गया है, उसको प्रोत्साहित भी किया जायेगा. इसमें पटना जिला के 20 स्कूल शामिल है. 

यह भी पढ़ें: बिहार के किसानों ने मक्के की खेती में नया रेकॉर्ड बनाया है

80 हजार छात्र हुए थे लाभांवित  
वर्ष 2016 में शुरू किए गए इस प्रोग्राम के तहत अब तक 9वीं और 10वीं क्लास मिलाकर 80 हजार छात्र लाभांवित हुए हैं. इसमें 9वीं के 35 हजार छात्र शामिल हैं. इन छात्रों को कम्यूनिकेटिंग इंगलिश, लाइफ स्कील्स, आईटी और करियर काउंसिलिंग की जानकारी दी गयी है. 

100 से अधिक करियर की जानकारी  
9वीं के बाद छात्र अपनी क्षमता के अनुसार अपने लिए करियर का चयन कर पाएं, इसके लिए इस प्रोग्राम को शुरू किया गया है. अभी तक इसके तहत 100 से अधिक करियर की जानकारी दी जा रही है. 
इन करियर के बारे में दी जायेगी जानकारी
आहार विशेषज्ञ, वास्तुविद, सेरोमिक टेक्नोलॉजिस्ट, फोटोग्राफर, पुरातत्ववेत्ता, पुस्तकालयाध्यक्ष, अर्थशास्त्री, क्लिनिकल साइकोलॉजिस्ट, संग्रहाध्यक्ष, पशु चिकित्सक, आभूषण डिजाइनर आदि.  

जॉब कार्ड में ये जानकारियां
- संबंधित करियर के बारे में परिचय 
- उसके लिए अनिवार्य शैक्षणिक योग्यता 
- संबंधित करियर संबंधित कौशल 
- देश भर में उस करियर से संबंधित कॉलेज या शिक्षण संस्थान 
- संबंधित करियर में रोजगार के अवसर 
- संबंधित करियर के लिए प्रारंभिक आय 
ये जिले हैं शामिल 
अररिया, जमुई, कटिहार, किशनगंज, मधेपुरा, पश्चिम चंपारण, पूर्णिया, सहरसा, शिवहर, सुपौल 

VIDEO: लालू यादव के बेटे को लेकर जब हाई कोर्ट ने मांगी बिहार सरकार से रिपोर्ट

छात्रों को होंगे ये फायदे
- प्रोग्राम के माध्यम से छात्रों को आगे बढ़ने में मिलेगी मदद 
- छात्र अपनी क्षमता को समझ पाएंगे 
- छात्र अपनी रुचि को समझ पाएंगे 
- जिस क्षेत्र में वे अपना करियर बनाना चाहते हैं, उसके लिए खुद को तैयार कर पाएंगे

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com