NDTV Khabar

बिहार: जीतन राम मांझी ने कहा- हमने कभी नहीं कहा कि महागठबंधन से अलग होंगे

बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और हिंदुस्तानी अवाम मोर्चा (सेक्युलर) के राष्ट्रीय अध्यक्ष जीतन राम मांझी ने रविवार को कहा कि उन्होंने ऐसा कभी नहीं कहा कि उनकी पार्टी महागठबंधन से अलग होगी.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
बिहार: जीतन राम मांझी ने कहा- हमने कभी नहीं कहा कि महागठबंधन से अलग होंगे

जीतन राम मांझी

खास बातें

  1. मांझी ने कहा- हमने कभी नहीं कहा कि महागठबंधन से अलग होंगे
  2. मांझी ने विपक्षी दलों के महागठबंधन से बाहर जाने के संकेत दिए थे
  3. अगर समिति का गठन नहीं होगा तो हम उनके साथ नहीं रहेंगे
बिहार:

पूर्व मुख्यमंत्री और हिंदुस्तानी अवाम मोर्चा (सेक्युलर) (Hindustani Awam Morcha) के राष्ट्रीय अध्यक्ष जीतन राम मांझी (Jitan Ram Manjhi) ने रविवार को कहा कि उन्होंने ऐसा कभी नहीं कहा कि उनकी पार्टी महागठबंधन से अलग होगी. मांझी ने हालही में प्रदेश में विपक्षी दलों के महागठबंधन से बाहर जाने के संकेत दिए थे. हिंदुस्तानी अवाम मोर्चा (सेक्युलर) के युवा प्रकोष्ठ की समीक्षा बैठक के बाद मांझी ने पत्रकारों से कहा, ‘‘हमने कभी नहीं कहा कि महागठबंधन से अलग होंगे. इसी शर्त पर आए थे कि महागठबंधन की समन्वय समिति का गठन किया जाएगा और जो भी निर्णय लिए जाएंगे इस समिति के माध्यम लिए जाएंगे. अगर इस समिति का गठन नहीं होगा तो हम उनके साथ नहीं रहेंगे.'' 

जब लालू यादव ने रोक दिया था लालकृष्ण आडवाणी का 'रथ', पढ़ें- पूरा किस्सा


उन्होंने कहा कि 13 नवंबर को होने वाले महागठबंधन के महाधरना में हिंदुस्तानी अवाम मोर्चा सेक्युलर तभी शामिल होगी जब इस गठबंधन में समन्वय समिति का गठन होगा. हिंदुस्तानी अवाम मोर्चा (से0) की बृहस्पतिवार को पटना में आयोजित केंद्रीय एवं राज्य कार्यकारिणी की बैठक के बाद मांझी के बिहार विधानसभा 2020 के चुनाव स्वतंत्र रूप में लड़ने के अपने पुराने निर्णय को दोहराये जाने पर उनके महागठबंधन के अलग होने के कयास लगाए जाने लगे थे.

टिप्पणियां

बिहार : पटना में साल 2021 से डीजल ऑटो नहीं चलेंगे

उन्होंने कहा था कि महागठबंधन में समन्वय समिति का नहीं होने एवं सर्वसम्मति से निर्णय नहीं होने की स्थिति में ऐसा निर्णय लिया गया है. 



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement