NDTV Khabar

बिहार में महागठबंधन के नेता राज्यपाल से नीतीश कुमार की शिकायत करेंगे

नीतीश कुमार द्वारा सड़क छाप नेता कहने पर खफा हुए महगठबंधन के नेता गण, सीटों के तालमेल को लेकर फिलहाल कोई विशेष फैसला नहीं

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
बिहार में महागठबंधन के नेता राज्यपाल से नीतीश कुमार की शिकायत करेंगे

बिहार में महागठबंधन के नेता राज्यपाल से सीएम नीतीश कुमार की शिकायत करेंगे.

खास बातें

  1. नीतीश ने कहा था, कांग्रेस के साथ मिलकर भी महागठबंधन में दम नहीं
  2. लोकसभा चुनाव में बिहार की जनता काम के आधार पर वोट करेगी
  3. महागठबंधन के नेताओं ने सर्वसम्मति से विरोध प्रदर्शन का फैसला किया
पटना:

बिहार में महागठबंधन के नेताओं की पहली औपचारिक बैठक सोमवार को विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव के घर पर हुई. इस बैठक में सीटों के तालमेल को लेकर जैसी उम्मीद थी वैसा कोई फैसला तो नहीं हुआ लेकिन एक बात पर आम सहमति बनी कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की शिकायत करने के लिए बृहस्पतिवार को महागठबंधन का एक प्रतिनिधिमंडल राज्यपाल लालजी टंडन से मिलेगा.

दरअसल मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के एक लोक संवाद के बाद संवाददाताओं ने उनसे बिहार में महागठबंधन के नेताओं को लेकर पूछा था कि क्या बिहार में जातीय समीकरण पर ही चुनाव होगा? इस पर नीतीश कुमार का जवाब था कि बिहार की जनता काम के आधार पर वोट करेगी. उन्होंने कहा था कि वे खुशी मना रहे हैं या उनमें लाख कॉन्फिडेंस है, पर राजद में दम है और कांग्रेस के साथ मिलकर भी उनके गठबंधन में दम नहीं है. इसलिए हर दिन नए-नए सहयोगियों को जोड़ा जा रहा है.

यह भी पढ़ें : 2019 के लोकसभा चुनाव में पीएम मोदी की ही जीत होगी : नीतीश कुमार


इसके बाद महागठबंधन के नेताओं को एक मुद्दा मिल गया. सबसे पहले विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव ने अपने संवाददाता सम्मेलन में कहा कि नीतीश कुमार अपनी भाषा पर नियंत्रण और भाषा की मर्यादा खोते जा रहे हैं. इसी का एक उदाहरण है कि उन्होंने महागठबंधन के नेताओं को सड़क छाप नेता कहा. यह समाज का अपमान है.

VIDEO : एनडीए के बाद महागठबंधन पर होगी बात

टिप्पणियां

इसके बाद महागठबंधन के नेताओं की बैठक हुई जिसमें इस बात पर सर्वसम्मति बनी कि विरोध प्रदर्शन के अलावा 10 तारीकों से महागठबंधन के नेताओं का एक प्रतिनिधिमंडल राज्यपाल लालजी टंडन से मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की भाषा की शिकायत करेगा. उनसे नीतीश को अपने अपमानजनक वाक्य वापस लेने के निर्देश देने का आग्रह करेगा.



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement