Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
NDTV Khabar

बिहार में मदरसों के छात्रों के लिए भी छात्रवृति की योजना: सुशील मोदी

उप मुख्यमंत्री सुशील मोदी ने घोषणा की है कि राज्य सरकार अब मदरसों से अच्छे अंकों से पास करने वाले छात्रों को छात्रवृति देगी.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
बिहार में मदरसों के छात्रों के लिए भी छात्रवृति की योजना: सुशील मोदी

बिहार के उप मुख्यमंत्री सुशील मोदी(फाइल फोटो)

खास बातें

  1. बिहार में मदरसों के छात्रों के लिए भी छात्रवृति की योजना
  2. बिहार में उप मुख्यमंत्री सुशील मोदी ने यह घोषणा की है
  3. 10वीं व 12वीं की परीक्षा अच्छे अंक लाने वाले को भी छात्रवृति
पटना:

बिहार में भले नीतीश कुमार भाजपा के साथ मिलकर सरकार चला रहे हों, लेकिन उनकी और भाजपा के मंत्रियों की पूरी कोशिश होती हैं कि अल्पसंख्यक वर्ग की योजनाओं को जोर-शोर से उठाया जाए. इसी क्रम में उप मुख्यमंत्री सुशील मोदी ने घोषणा की है कि राज्य सरकार अब मदरसों से अच्छे अंकों से पास करने वाले छात्रों को छात्रवृति देगी. सुशील मोदी ने बुधवार को पार्टी के अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ की बैठक में यह बात कही. मुख्यमंत्री अल्पसंख्यक विद्यार्थी प्रोत्साहन योजनान्तर्गत सरकारी स्कूलों की भांति मदरसों से 10वीं व 12वीं की परीक्षा अच्छे अंकों में उत्तीर्ण करने वालों को भी छात्रवृत्ति दी जायेगी. 

यह भी पढ़ें: चार्जशीट दायर होगी, लालू और तेजस्वी यादव जेल भी जाएंगे : सुशील मोदी


टिप्पणियां

मान्यता प्राप्त मदरसों में कक्ष, पेयजल, शौचालय, पुस्तकालय, कम्प्यूटर आदि के लिए राज्य सरकार सहायता देगी. वक्फ की भूमि का सर्वे कराकर सरकार उसे अतिक्रमण मुक्त करायेगी और वहां वक्फ कमेटी का कार्यालय, सार्वजनिक पुस्तकालय एवं बहुउद्देश्यीय भवन आदि का निर्माण कराया जायेगा. सुशील मोदी ने तीन तलाक़ के मुद्दे पर संसद के आगामी सत्र में आने वाले विधेयक पर भी सभी वर्गों से सहयोग को अपील की है. उन्होंने कहा कि तीन तलाक़ के मुद्दे पर केंद्र सरकार की पहल से मुस्लिम महिलाओं की स्थिति में सुधार होगा. 

VIDEO: सुशील मोदी के घर में घुसकर उन्हें मारूंगा : तेजप्रताप
पूर्व राज्य सरकार ने अल्पसंख्यक समाज के तलाकशुदा महिलाओं का वार्षिक खर्च के लिए राशि 10 हजार रूपये से बढ़ाकर 25 हजार रूपये करने की घोषणा की है.हालांकि, इस बैठक में पार्टी के अधिकांश नेताओं का कहना था कि भाजपा जाति और धर्म के नाम पर भेदभाव नहीं करती. मगर, महिलाओं-बच्चों के साथ होने वाले भेदभाव, तीन तलाक, दहेज प्रथा, बाल विवाह, छुआछूत जैसी सामाजिक बुराइयों को रोकने की पहल जरूर करेगी.



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... सिर पर मटका लेकर डांस कर रही थीं महिलाएं, ऐसा था डोनाल्ड ट्रंप की पत्नी का रिएक्शन... देखें Video

Advertisement