NDTV Khabar

बिहार : एनडीए नीतीश कुमार के नेतृत्व में ही अगला विधानसभा चुनाव लड़ेगा

बिहार बीजेपी के वरिष्ठ नेता और उप मुख्यमंत्री सुशील मोदी ने बिहार विधानसभा में की घोषणा

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
बिहार : एनडीए नीतीश कुमार के नेतृत्व में ही अगला विधानसभा चुनाव लड़ेगा

बिहार में एनडीए अगला विधानसभा चुनाव नीतीश कुमार के नेतृत्व में लड़ेगा.

पटना:

एनडीए बिहार में अगला विधानसभा चुनाव मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के नेतृत्व में ही लड़ेगा. यह घोषणा बिहार बीजेपी के वरिष्ठ नेता और उप मुख्यमंत्री सुशील मोदी ने बिहार विधानसभा में की.

बिहार विनियोग विधेयक (संख्या 2) पर विधानसभा में उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने कहा कि अगले विधानसभा चुनाव में नीतीश कुमार के ही नेतृत्व में एनडीए मैदान में जाएगा. मोदी ने कहा कि बिहार की जनता तुलना कर तय करेगी कि 2005 के पहले के 15 साल और उसके बाद के 15 साल के कार्यकाल में किस सरकार ने बेहतर कार्य किया है. पहले के 15 साल वाली सरकार ने बिहार को शमशान बनाकर छोड़ दिया था, जिसका नतीजा हुआ कि 2005 में जब जदयू-भाजपा गठबंधन की नई सरकार आई तो उसे हर कार्य नए सिरे से प्रारंभ करना पड़ा था.

सुशील मोदी ने कहा कि यह भ्रम  फैलाया जा रहा है, मगर तय है कि अगला 2020 का विधानसभा चुनाव गठबंधन के तहत नीतीश कुमार के नेतृत्व में ही लड़ा जाएगा. लोकसभा की एक सीट पर सिमट जाने वाले महागठबंधन की डूबती नाव पर भला कौन सवारी करना चाहेगा? सरकार की जितनी भी लोक कल्याणकारी योजनाएं हैं उन सबको यह सरकार पूरा करेगी.


टिप्पणियां

विधान मंडल के मौजूदा सत्र से नेता प्रतिपक्ष के अनुपस्थित रहने पर तंज कसते हुए उप मुख्यमंत्री ने कहा कि आज 17 वें दिन भी वे सदन में नहीं आए. क्या कारण है, बीमार हैं या कुछ और? अध्यक्ष महोदय सदन का क्या प्रावधान है, आपकी अनुमति के बिना कोई कितने दिनों तक सदन से अनुपस्थित रह सकता है? नेता प्रतिपक्ष ने बजट और न ही किसी अन्य चर्चा में एक शब्द बोले हैं. लगातार 17 दिनों तक सदन से नेता प्रतिपक्ष का अनुपस्थित रहना इतिहास में दर्ज होगा.

इस वक्तव्य से सुशील मोदी ने उन सारी अटकलों को विराम लगा दिया है कि भाजपा किसी अपने नेता को ख़ासकर केंद्रीय गृह राज्यमंत्री नित्यानंद राय को मुख्यमंत्री का चेहरा बनाकर विधानसभा चुनाव में जा सकती है. और सब जानते हैं कि एनडीए अगर वर्तमान स्वरूप में विधानसभा चुनाव में एकजुट होकर गई तो राजद की स्थिति लोकसभा चुनाव से बेहतर नहीं होगी.



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement