Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
NDTV Khabar

बिहार में फिर बीजेपी-जेडीयू सरकार, नीतीश कुमार का शपथ ग्रहण आज

नीतीश के इस्‍तीफे के बाद तेजी से बदले घटनाक्रम में बीजेपी ने नई सरकार बनाने के लिए जेडीयू को समर्थन देने का ऐलान किया.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
बिहार में फिर बीजेपी-जेडीयू सरकार, नीतीश कुमार का शपथ ग्रहण आज

नीतीश कुमार से मुलाकात करते भाजपा नेता सुशील मोदी...

खास बातें

  1. नीतीश ने सुशील मोदी के साथ राज्यपाल के समक्ष सरकार बनाने का दावा पेश किया
  2. तेजस्वी के मुद्दे पर नीतीश ने बुधवार शाम को इस्तीफे की घोषणा की थी
  3. बीजेपी ने फौरन नीतीश कुमार को समर्थन देने का ऐलान कर दिया
पटना:

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने सहयोगी राजद के नेता और उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव पर लगे भ्रष्टाचार के आरोपों पर मतभेद के चलते बुधवार को अपने पद से इस्तीफा दे दिया, जिससे 2014 के लोकसभा चुनावों के बाद बना महागठबंधन टूट गया. नीतीश के इस्‍तीफे के बाद तेजी से बदले घटनाक्रम में बीजेपी ने नई सरकार बनाने के लिए जेडीयू को समर्थन देने का ऐलान किया. बीजेपी नेता सुशील मोदी ने कहा कि नई सरकार में बीजेपी शामिल होगी और नीतीश को समर्थन देने के अपने फैसले के बारे में गवर्नर को पत्र भेजा. सरकार बनाने का दावा पेश करने के लिए नीतीश कुमार और सुशील मोदी देर रात राज्यपाल से मिलने गए. नीतीश कुमार और सुशील मोदी आज सुबह 10 बजे शपथ ग्रहण करेंगे. नई सरकार के बाकी मंत्री बहुमत परीक्षण के बाद शपथ लेंगे.

कहा जा रहा है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शपथ ग्रहण समारोह में शामिल हो सकते हैं. केंद्रीय मंत्री जेपी नड्डा और बीजेपी महासचिव अनिल जैन आज (गुरुवार को) पटना आएंगे. बिहार में जेडीयू के 71 विधायक हैं और बीजेपी के 53, ऐसे में दोनों पार्टियां मिलकर आसानी से बहुमत का आंकड़ा पार कर लेती हैं. बिहार में बहुमत का आंकड़ा 122 है और दोनों पार्टियों के 124 विधायक हो रहे हैं.


ये भी पढ़ें...
नीतीश बीजेपी से मिले हुए हैं, आरएसएस से सेटिंग है : लालू प्रसाद

बिहार में नीतीश कुमार के मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देने के बाद बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने सुशील मोदी से बात की. सुशील मोदी ने अपने घर 1-पोलो रोड पर बीजेपी विधायकों की आपात बैठक बुलाई. इस बैठक के बाद पार्टी के वरिष्ठ नेता सुशील मोदी ने कहा कि हम राज्य में मध्यावधि चुनाव के पक्ष में नहीं हैं. हम चाहते हैं कि जो भी विधायक जीत कर आए हैं, वे पांच साल का कार्यकाल पूरा करें.
ये भी पढ़ें...
लालू यादव बोले, 'कौन सा जीरो टोलरेंस... कौन सी ईमानदारी, नीतीश तो हत्‍या के मामले में आरोपी हैं'

दरअसल, तेजस्वी के खिलाफ लगे आरोपों को लेकर सत्तारूढ़ महागठबंधन के घटक दल जदयू और राजद के बीच काफी समय से गतिरोध चल रहा था.
ये भी पढ़ें...
'कफन में जेब नहीं होती, जो भी होगा यहीं रह जाएगा', इस्‍तीफे के बाद नीतीश ने लालू पर कसा तंज...
नीतीश कुमार ने खेला बड़ा सियासी दांव, ये हैं इस्‍तीफे के अहम कारण

इससे पूर्व नीतीश कुमार ने राज्यपाल केशरीनाथ त्रिपाठी को इस्तीफा सौंपने के बाद राजभवन के बाहर मीडिया से कहा कि 'बिहार में जो माहौल था उसमें महागठबंधन की सरकार चलाना मुश्किल हो गया था'. उन्होंने नई सरकार बनाने के लिए भाजपा का समर्थन लेने की बात से भी इंकार नहीं किया था.

वहीं, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 'भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ाई में शामिल होने के लिए' नीतीश की प्रशंसा करते हुए कहा था कि पूरा देश उनकी ईमानदारी का समर्थन करता है'.

 


पीएम नरेंद्र मोदी द्वारा ट्वीट कर दी गई बधाई पर प्रतिक्रिया स्‍वरूप नीतीश ने भी ट्वीट कर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को धन्‍यवाद दिया.
 
VIDEO : हम मध्‍यावधि चुनाव नहीं चाहते- सुशील मोदी
टिप्पणियां

नीतीश कुमार के इस्तीफ़े के बाद भाजपा नेता सुशील कुमार मोदी ने इसका स्वागत करते हुए कहा था कि उन्हें इस बात की ख़ुशी है कि नीतीश ने राष्ट्रीय जनता दल के सामने घुटने नहीं टेके.



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... Bhojpuri Video Song: पवन सिंह के रोमांटिक गाने का यूट्यूब पर तहलका, 1 करोड़ से ज्यादा बार देखा गया Video

Advertisement