Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
NDTV Khabar

शराब पीने के आरोप में गिरफ्तार व्यक्ति ने कैदखाने में कर ली आत्महत्या

नीतीश कुमार की सरकार ने 1 अप्रैल 2016 को राज्य में शराब पर प्रतिबंध लगा दिया था.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
शराब पीने के आरोप में गिरफ्तार व्यक्ति ने कैदखाने में कर ली आत्महत्या

प्रतीकात्मक फोटो

पटना:


बिहार में भागलपुर जिला के कहलगांव थाना के कैदखाने में रखे गए एक व्यक्ति ने रविवार को कथित तौर पर आत्महत्या कर ली. उसे शराब पीने के आरोप में गिरफ्तार किया गया था. कहलगांव अनुमंडल पुलिस अधिकारी मनोज कुमार सुधांशू ने बताया कि मृतक का नाम दिलखुश कुमार (26) है, जिसे नशे की हालत में शनिवार को गिरफ्तार किया गया था.  मनोज ने कहा कि वे घटनाक्रम की खुद जांच करेंगे तथा यह सुनिश्चित करने का प्रयास करेंगे कि इस घटना में किस पुलिसकर्मी की लापरवाही है.

बिहार में खुली शराबबंदी की पोल, नशे में हंगामा करते दिखे बिहार पुलिस के जवान

गौरतलब है कि नीतीश कुमार ने शराब बंदी कानून को सही तरीके से लागू करने को लेकर कुछ दिन पहले एक आंकड़ा पेश किया था. बिहार सरकार द्वारा जारी किए गए इस आंकड़ो के अनुसार बिहार में शराब बंदी कानून का पालन न करने पर हर 10 मिनट में 1 आरोपी को गिरफ्तार किया जा रहा है.


बिहार : पटना में शराब के साथ 2 चीनी नागरिक गिरफ्तार

यानी की बिहार पुलिस हर दिन 172 ऐसे लोगों को गिरफ्तार कर रही है जो इस कानून का उल्लघंन करते हैं. बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने विधानसभा को बताया था कि अप्रैल 2016 से अब तक ऐसा करने वाले कुल 1.21 लाख आरोपियों को पुलिस गिरफ्तार कर चुकी है. वहीं 1 अप्रैल 2016 से 6 मार्च 2018 तक के बीच संबंधित विभाग ने कुल 6.5 लाख छापेमारी की है. इनमें कुल 2 मिलियन लीटर शराब जब्त की गई. ध्यान हो कि नीतीश कुमार की सरकार ने 1 अप्रैल 2016 को राज्य में देशी शराब तो तुरंत प्रभाव से और अगले छह महीने में हर किस्म की शराब को बंद करने का एलान किया था. 

टिप्पणियां

VIDEO: बिहार में ताड़ी को लेकर भी सियासत शुरू



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... ओडिशा में गृहमंत्री अमित शाह ने CAA को लेकर विपक्ष पर साधा निशाना, कहा - ...अरे इतना झूठ क्यों बोलते हो

Advertisement