NDTV Khabar

बिहार में तालाब से निकली अंग्रेजी शराब की बोतलें और बियर केन, देखती रह गई पुलिस

एक मामला मुजफ्फरपुर के बरूराज थाना के लक्ष्मिनिया गांव में मंगलवार को देखने को मिला, जब पुलिस स्थानीय मछुआरों की मदद से शराब की बोतलें निकालने लगी.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
बिहार में तालाब से निकली अंग्रेजी शराब की बोतलें और बियर केन, देखती रह गई पुलिस

प्रतिकात्मक चित्र

खास बातें

  1. बिहार के मुजफ्फरपुर में सामने आया मामला
  2. पुलिस ने बरामद की शराब की बोतलें
  3. बिहार में लागू है पूर्ण शराबबंदी
मुजफ्फरपुर:

बिहार में यूं तो शराब पर पूरी तरह प्रतिबंध लागू है, लेकिन तस्करों की मौज है. वे तस्करी को लेकर रोज नए-नए तरीके ईजाद कर रहे हैं. ऐसा ही एक मामला मुजफ्फरपुर के बरूराज थाना के लक्ष्मिनिया गांव में मंगलवार को देखने को मिला, जब पुलिस स्थानीय मछुआरों की मदद से शराब की बोतलें निकालने लगी. मुजफ्फरपुर के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक मनोज कुमार ने बताया, 'बरूराज थाना के लक्ष्मिनिया गांव में एक तालाब में भारी मात्रा में शराब छिपाकर रखे जाने की सूचना मिली थी. इस सूचना के आधार पर तालाब में मछुआरों की सहायता से तलाशी करवाई गई, और इस दौरान विदेशी शराब की बोतलें और केन बीयर बरामद की गईं.' 

बिहार में एक्साइज़ डिपार्टमेंट ने 100 कार्टन शराब ले जाती ATM कैश वैन पकड़ी, दो गिरफ्तार

उन्होंने बताया, 'शराब की बोतलें बोरियों में भरकर पानी के अंदर छिपाई गई थीं. बोरों को रस्सी से बांध दिया गया था. फिलहाल इस छापेमारी के दौरान तस्कर की पहचान नहीं हो पाई है. पुलिस आरोपी की तलाश में है.' एक पुलिस के अधिकारी ने बताया कि तालाब से 85 बोतल अंग्रेजी शराब तथा 23 केन बीयर बरामद की गई हैं. आपको बता दें कि बीते मुजफ्फरपुर जिले के ही मोतीपुर थाना परिसर में थाना प्रभारी आवास से भारी मात्रा में शराब बरामद की गई.


बिहार: जब थानेदार और सिपाही पर लगा शराब के कारोबार का आरोप तो जाना पड़ा जेल

टिप्पणियां

इस मामले में तुरंत कार्रवाई करते हुए थाने में पदस्थापित सभी पुलिसकर्मियों का स्थानांतरण कर दिया गया. साथ ही थाना प्रभारी और सहायक अवर निरीक्षक को निलंबित कर दिया गया. मुजफ्फरपुर के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक मनोज कुमार ने यहां मंगलवार को कहा कि रविवार को थाना प्रभारी कुमार अमिताभ के आवास से बड़ी मात्रा में शराब बरामद की गई थी. (इनपुट- IANS)

मुक़ाबला : भारत में शराबबंदी की राह किस ओर?​



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement