NDTV Khabar

नीतीश कुमार सरकार के खिलाफ आरजेडी का आरोप-पत्र, जानिए- क्या है इसमें...

राष्ट्रीय जनता दल ने नीतीश कुमार की सरकार के खिलाफ ‘कुर्सी के प्यारे, बिहार के हत्यारे' नाम से एक आरोप-पत्र जारी किया

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
नीतीश कुमार सरकार के खिलाफ आरजेडी का आरोप-पत्र, जानिए- क्या है इसमें...

आरजेडी के नेता तेजस्वी यादव ने नीतीश कुमार सरकार के खिलाफ आरोप-पत्र जारी किया है.

खास बातें

  1. विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव ने नीतीश कुमार को कुर्सी का लोभी बताया
  2. शराबबंदी में केवल दलित, पिछड़े वर्ग के लोगों को गिरफ्तार किया
  3. बिहार को साम्प्रदायिक राजनीति का अखाड़ा बनाने की साज़िश
पटना: बिहार में राष्ट्रीय जनता दल ने बुधवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की सरकार के खिलाफ ‘कुर्सी के प्यारे, बिहार के हत्यारे' नाम से एक आरोप-पत्र जारी किया. इस आरोप-पत्र को जारी करते हुए विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव ने नीतीश कुमार को कुर्सी का लोभी बताते हुए विभिन्न मुद्दों पर उनके कार्यकलाप की आलोचना की.

नीतीश कुमार की सरकार को गतिहीन, दिशाहीन और संवेदनहीन बताते हुए तेजस्वी ने कहा कि नीतीश कुमार तानाशाह की तरह अपने शासनकाल में आंदोलन को रौंदते हैं. तेजस्वी ने कहा कि विपक्षी दल होने के नाते उन्होंने सरकार के कामकाज की समीक्षा कर जनता को बताने का फैसला लिया है.

यह भी पढ़ें : तेजस्वी यादव बोले- मैं सरकार को चुनौती देता हूं कि मेरे ऊपर चार्जशीट लाए

शराबबंदी को पूर्णतया विफल बताते हुए तेजस्वी ने कहा कि इसके तहत केवल दलित, पिछड़े वर्ग के लोगों को गिरफ्तार किया जा रहा है जबकि सच्चाई यह है कि अब हर व्यक्ति को होम डिलीवरी में शराब उपलब्ध हो रही है. बड़े रसूख वाले और सत्ता से संबंधित लोगों पर पुलिस कभी हाथ नहीं डालती.तेजस्वी के अनुसार पुलिस खुद शराब और बालू माफ़िया से मिलीभगत कर वसूली कारोबार में लगी है.

तेजस्वी ने कहा कि जब से नीतीश कुमार ने भाजपा के साथ सरकार बनाई है साम्प्रदायिक तनाव को घटना बढ़ गई हैं क्योंकि बिहार को साम्प्रदायिक राजनीति का अखाड़ा बनाने की साज़िश चल रही है. अल्पसंख्यक समुदाय के नौजवानों को दहशतगर्द बना जेल भेजा जा रहा है.

टिप्पणियां
VIDEO : अररिया में देश विरोधी नारेबाजी

इस आरोप-पत्र में कई ऐसी घटनाओं का जिक्र है कि कैसे नीतीश कुमार ने बहाना बनाकर भाजपा की तारीफ़ कर उससे अपनी नज़दीकी बढ़ाई. उन्होंने कहा कि सत्ता परिवर्तन पूरी तरह स्क्रिप्ट के अनुसार था.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement