NDTV Khabar

बिहार: नीतीश और सुशील मोदी का मुखौटा पहनकर विधानसभा पहुंचे राजद विधायक

बिहार विधान मंडल के शीतकालीन सत्र की शुरुआत के पहले दिन राजद विधायकों एवं पूर्व मंत्रियों ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी का मुखौटा लगाकर सदन में पहुंचे.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
बिहार: नीतीश और सुशील मोदी का मुखौटा पहनकर विधानसभा पहुंचे राजद विधायक
पटना:

बिहार विधान मंडल के शीतकालीन सत्र की शुरुआत के पहले दिन राजद विधायकों एवं पूर्व मंत्रियों ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी का मुखौटा लगाकर सदन में पहुंचे. बिहार विधानसभा के अध्यक्ष विजय कुमार चौधरी और विधान परिषद के कार्यकारी सभापति हारुन रशीद ने सत्र संचालन की तैयारी पूरी कर ली है. सोमवार को पहले दिन औपचारिकता पूरी कर सभा की कार्यवाही मंगलवार तक के लिए स्थगित कर दी गई.

पढ़ें: बिहार: उप मुख्यमंत्री सुशील मोदी ने लालू से पूछा कि क्या आप भी डर गए?

विपक्ष के विधायक और नेता विधानसभा के बाहर पॉर्टिको में घोटालों एवं समस्याओं से जुड़े तख्ती-बैनर लेकर पहुंचे थे. इनके चेहरे पर नीतीश कुमार व सुशील मोदी की तस्वीर लगे मुखौटा पहने साफ देखा जा सकता है. सभी विपक्ष के नेता विधानसभा के मेन गेट की सीढ़ियों पर जाकर बैठे और जोरदार हंगामा करने लगे. कार्यवाही शुरू होने के पहले से ही विधानसभा के बाहरी परिसर में विपक्ष का जोरदार हंगामा देखने को मिला.


पढ़ें: लालू यादव की हत्या करने के लिए कम की जा रही है सुरक्षा: राजद

विपक्ष ने सृजन घोटाला, शौचालय घोटाला, खराब विधि व्यवस्था और धान की खरीद के मसले पर सरकार को घेरने की पूरी तैयारी में दिखी. विपक्ष ने इसे लेकर जोरदार हंगामा किया. इस दौरान सृजन से लेकर के शौचालय घोटाला तक को लेकर नारेबाजी की गई. उधर कई विधायकों के हाथों में 'नीतीश सरकार होश में आओ' के बैनर भी देखने को मिले. अब सदन की कार्यवाही हंगामेदार होने के आसार हैं.

पढ़ें: केंद्र सरकार ने लालू प्रसाद और जीतनराम मांझी की जेड प्लस सुरक्षा वापस ली

टिप्पणियां

उधर, राजद और कांग्रेस समेत अन्य विपक्षी दलों ने शीतकालीन सत्र के दौरान छात्रों व जनहित के मुद्दों और किसानों की समस्याओं को लेकर भी सरकार को घेरने की घोषणा की है. प्रतिपक्ष के नेता तेजस्वी यादव के मुताबिक राज्य में सृजन घोटाले, शौचालय घोटाले, खराब विधि व्यवस्था और किसानों से धान की नहीं हो रही खरीद समेत अन्य मसले पर सरकार से सदन में जवाब मांगने की तयारी में है. फिलहाल सदन के बाहर चल रहे इस हंगामे को देख कर तो यही लगता है कि यह शीतकालीन सत्र काफी हंगामेदार होने वाला है. बता दें कि 27 नवंबर से एक दिसंबर तक चलने वाले इस सत्र में पांच बैठकें होंगी.

VIDEO: प्रॉपर्टी के नए पचड़े में फंसे आरजेडी प्रमुख लालू यादव


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों (Election News in Hindi), LIVE अपडेट तथा इलेक्शन रिजल्ट (Election Results) के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement