NDTV Khabar

बिहार को विशेष राज्य का दर्जा हमारे एजेंडा से बाहर : 15वें वित्त आयोग के अध्यक्ष एन के सिंह

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और राज्य सरकार के अन्य मंत्रियों और आला अधिकारियों के साथ बैठक करने के अलावा सिंह ने सभी दलों के प्रतिनिधिमंडल से भी बैठक की.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
बिहार को विशेष राज्य का दर्जा हमारे एजेंडा से बाहर : 15वें वित्त आयोग के अध्यक्ष एन के सिंह

मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार लंबे अर्से से राज्‍य के लिए विशेष दर्जे की मांग करते रहे हैं (फाइल फोटो)

पटना:

बिहार या किसी अन्य राज्य को विशेष राज्य का दर्जा देने की अनुशंसा वित्त आयोग नहीं कर सकता. ये बात ख़ुद 15वें वित्त आयोग के अध्यक्ष एन के सिंह ने कही. इन दिनों सिंह वित्त आयोग की पूरी टीम के साथ बिहार के दौरे पर हैं. बुधवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और राज्य सरकार के अन्य मंत्रियों और आला अधिकारियों के साथ बैठक करने के अलावा सिंह ने सभी दलों के प्रतिनिधिमंडल से भी बैठक की. जहां भाजपा को छोड़कर सभी दलों के नेताओं ने राज्य को विशेष राज्य का दर्जा देने की मांग की वहीं भाजपा प्रतिनिधिमंडल ने बिहार को विशेष सहायता देने की मांग रखी.

सिंह से जब ये पूछा गया कि क्या बिहार सरकार और अन्य दलों के विशेष राज्य के दर्जे की मांग को उचित मानते हैं और क्या इसकी अनुशंसा वो अपनी रिपोर्ट में करेंगे तब उन्होंने साफ़-साफ़ कहा कि ये उनके अधिकार क्षेत्र के बाहर का विषय है और जो अधिसूचना वित्त आयोग के विषय के बारे में प्रकाशित की गयी है उसमें इसकी कहीं चर्चा नहीं की गयी है.

टिप्पणियां

सिंह के इस बयान से सत्तारूढ़ जनता दल यूनाइटेड (जेडीयू) समेत सभी दलों के लोगों को मायूसी होगी लेकिन माना जाता है कि केंद्र ने एक तरह से इस मुद्दे से अपना पल्ला झाड़ लिया है.


वहीं नीतीश कुमार ने विकास के तमाम पायदानों पर प्रगति के बाद अपने भाषण में माना कि बिहार अभी भी कई मापदंडों पर राष्ट्रीय औसत से पीछे है. नीतीश ने दोहराया कि जब तक बिहार को विशेष राज्य का दर्जा नहीं दिया जाता, शायद बिहार में कोई उद्योग धंधा नहीं लगाएगा.



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement