NDTV Khabar

बिहार में अब शौचालय घोटाला, लाभार्थी के बजाय एनजीओ के खातों में डाला गया पैसा

पटना के जिला अधिकारी द्वारा इस सम्बन्ध में दर्ज कराई गई प्राथमिकी के अनुसार शौचालय बनाने का पैसा सीधे लाभार्थी के खातों के बदले कुछ एनजीओ और दो व्यक्ति के खाते में ट्रांसफर किया गया.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
बिहार में अब शौचालय घोटाला, लाभार्थी के बजाय एनजीओ के खातों में डाला गया पैसा

प्रतीकात्मक चित्र.

पटना: बिहार में नए-नए घोटालों का उजागर होना जारी है. नया घोटाला है राज्य में शौचालय घोटाला का. इसमें ग़बन की गई राशि क़रीब 13 करोड़ है. पटना के जिला अधिकारी द्वारा इस सम्बन्ध में दर्ज कराई गई प्राथमिकी के अनुसार शौचालय बनाने का पैसा सीधे लाभार्थी के खातों के बदले कुछ एनजीओ और दो व्यक्ति के खाते में ट्रांसफर किया गया.

ये घोटाला लोक स्वास्थ्य अभियंत्रण विभाग का है और इसके मुख्य आरोपी हैं विनय कुमार सिन्हा जिन्होंने कार्यपालक अभियंता रहते हुए 2012 से 2015 तक दस हज़ार शौचालय के नाम पर पैसे का बंदरबाँट किया. ये घोटाला विभागीय जाँच के दौरान पटना के ज़िला अधिकारी द्वारा पकड़ा गई.

टिप्पणियां
यह भी पढ़ें : बिहार में उजागर हुआ एक और घोटाला, आरजेडी ने किया नीतीश कुमार पर हमला

फ़िलहाल इस मामले में सिन्हा की गिरफ़्तारी जहाँ तय है वही एक लेखपाल को निलम्बित किया गया है. इस मामले की जाँच के दौरान कई अनियमितता पाई गई.
VIDEO: मिट्टी घोटाले में शिकंजा कसता जा रहा है

हालाँकि पूरे राज्य के स्तर पर जाँच हो तो इस घोटाले का दायरा और बढ़ सकता है.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement