बिहार के उप-मुख्यमंत्री ने कहा- इन दिनों देश में बढ़ रही है क्षेत्रीय असमानता

भाजपा के वरिष्ठ नेता ने कहा कि राज्य पर जनसंख्या घनत्व का भी बहुत बोझ है. फिर भी यह कई सालों से अच्छा कर रहा है और ऊंची वृद्धि दर दर्ज कर रहा है.

बिहार के उप-मुख्यमंत्री ने कहा- इन दिनों देश में बढ़ रही है क्षेत्रीय असमानता

सुशील मोदी की फाइल फोटो

नई दिल्ली:

बिहार के उप-मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने बुधवार को कहा कि देश में इन दिनों क्षेत्रीय असमानताएं काफी बढ़ रही हैं.  साथ ही उन्होंने कहा कि कर राजस्व में राज्यों की हिस्सेदारी बढ़ने के बाद भी बिहार के लिए आवंटन का प्रतिशत असल में कम हो गया है. भारत में वित्तीय परिसंघवाद पर आयोजित एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए सुशील मोदी ने कहा कि ब्रिटिश राज के दौरान स्थायी बंदोबस्त और आजादी के बाद मालभाड़ा समानीकरण की नीति जैसे उपायों के कारण बिहार को हमेशा नुकसान हुआ है.

यह भी पढ़ें: पटना वायु प्रदूषण : डब्ल्यूएचओ के आंकड़े से सहमत नहीं हैं सुशील मोदी

भाजपा के वरिष्ठ नेता ने कहा कि राज्य पर जनसंख्या घनत्व का भी बहुत बोझ है. फिर भी यह कई सालों से अच्छा कर रहा है और ऊंची वृद्धि दर दर्ज कर रहा है. गौरतलब है कि कुछ दिन पहले ही राज्य के उप-मुख्यमंत्री ने जीएसटी में राहत को लेकर भी एक बयान दिया था. उन्होंने कहा था कि पेट्रोलियम उत्पादों को माल एवं सेवा कर (जीएसटी) के दायरे में लाने से इनके दाम कम करने के मामले में कोई ज्यादा असर नहीं होगा.

यह भी पढ़ें: सीएम नीतीश के वादे लगते थे लोकलुभावन, लेकिन सही हुए साबित :सुशील मोदी

जीएसटी नेटवर्क समिति के प्रमुख की जिम्मेदारी संभाल रहे सुशील मोदी ने कहा कि यह गलत धारणा (लोगों में) है कि पेट्रोलियम उत्पादों को जीएसटी के दायरे में लाने से उसकी कीमत में उल्लेखनीय कमी आएगी. इस कदम से पेट्रोलियम उत्पादों की कीमतों में कमी लाने के संदर्भ में मामूली प्रभाव ही पड़ेगा.

VIDEO: सुशील मोदी ने लालू यादव पर बोला हमला. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

जीएसटी व्यवस्था के तहत दुनिया भर में ऐसी व्यवस्था है कि राज्य सबसे ऊंची जीएसटी दर के ऊपर भी कर लगाते हैं. जहां भी जीएसटी लागू हुआ है, वहां यही व्यवस्था अपनाई जाती है. (इनपुट भाषा से)