NDTV Khabar

नीतीश के जद यू को चुनाव आयोग से मिली मान्यता, तीर का निशान रहेगा बरकरार

आयोग ने शुक्रवार को इस मामले में जद यू के बागी नेता शरद यादव की अगुवाई वाले गुट के पार्टी के चुनाव चिन्ह पर दावे को खारिज करते हुए नीतीश कुमार के गुट को ही वास्तविक जदयू बताया है.

102 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
नीतीश के जद यू को चुनाव आयोग से मिली मान्यता, तीर का निशान रहेगा बरकरार

नीतीश कुमार (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: चुनाव आयोग ने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की अगुवाई वाले जनता दल यूनाइटेड (जदयू) को मान्यता प्रदान की है. आयोग ने शुक्रवार को इस मामले में जद यू के बागी नेता शरद यादव की अगुवाई वाले गुट के पार्टी के चुनाव चिन्ह पर दावे को खारिज करते हुए नीतीश कुमार के गुट को ही वास्तविक जदयू बताया है. पार्टी के चुनाव चिन्ह पर दावे को लेकर नीतीश कुमार और शरद यादव गुट की अर्जी पर दोनों पक्षों की सुनवाई के बाद आयोग ने अपने आदेश में कहा कि नीतीश गुट के पास पार्टी विधायक दल का पूर्ण समर्थन है.

यह भी पढ़ें: शरद यादव और अली अनवर की जा सकती है राज्यसभा की सदस्यता?

आयोग के इस आदेश के साथ ही बिहार में राज्य स्तरीय मान्यता प्राप्त जदयू पर नीतीश गुट के दावे की पुष्टि हो गई. बिहार में सत्तारूढ़ नीतीश गुट द्वारा केन्द्र में सत्तारूढ़ राजग गठबंधन को समर्थन देने के विरोध में शरद गुट ने पार्टी से बगावत कर दी थी. बिहार में विधानसभा चुनाव से पहले जदयू, कांग्रेस और राजद के साथ बने महागठबंधन को नीतीश गुट द्वारा तोड़ कर राजग गठबंधन में शामिल होने का शरद गुट लगातार विरोध कर रहा है. गुजरात से जदयू विधायक छोटूभाई बसावा के नाम से आयोग में शरद गुट ने अर्जी दायर कर पार्टी का चुनाव चिन्ह 'तीर का निशान' उनके गुट को आवंटित करने का अनुरोध किया था.

यह भी पढ़ें: बिहार की सभी जेलों में अगले साल से हो सकती है, वीडियो कांफ्रेंसिंग की सुविधा : नीतीश कुमार

दोनों पक्षों की दलीलें सुनने के बाद आयोग ने पार्टी के विधायक दल का पूर्ण समर्थन नीतीश गुट के पक्ष में होने के आधार पर राज्य स्तरीय पार्टी के रूप में मान्यता प्राप्त जदयू के चुनाव चिन्ह के इस्तेमाल के लिये नीतीश गुट को अधिकृत बताया. सुनवाई के दौरान शरद गुट ने आयोग के समक्ष पार्टी में संगठन के पदाधिकारियों और प्रदेश इकाईयों का समर्थन होने का दावा करते हुए उनकी अगुवाई वाले गुट को वास्तविक जदयू बताया. 

यह भी पढ़ें: नीतीश कुमार से सीधी बात करना चाहते हैं तेजस्वी यादव, लेकिन हैं कुछ शर्तें

आयोग ने आदेश में कहा कि जद यू के अध्यक्ष नीतीश कुमार को पार्टी की बिहार प्रदेश इकाई और विधायक दल का समर्थन हासिल है. आयोग ने नीतीश गुट की इस दलील को सही माना कि जदयू बिहार की पंजीकृत पार्टी है और इसी राज्य में पार्टी सत्तारूढ़ भी है, इसलिए अन्य राज्यों के बजाय पार्टी की बिहार इकाई और विधायक दल के समर्थन वाले गुट को ही पार्टी का वास्तविक धड़ा माना जाए.

टिप्पणियां
VIDEO: बीजेपी को गुजरात में कोई खतरा नहीं है : नीतीश कुमार

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement