NDTV Khabar

मुजफ्फरपुर : दूरस्थ शिक्षा निदेशालय की 70 लाख रुपये की किताबें खाक, जानबूझकर आग लगाए जाने की आशंका

एलएस कॉलेज के पूर्व प्राचार्य के क्वार्टर में दूरस्थ शिक्षा निदेशालय की पुस्तकें दो साल पहले रखी गई थीं. परिसर का मुख्य प्रवेश द्वार बंद रहता है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
मुजफ्फरपुर : दूरस्थ शिक्षा निदेशालय की 70 लाख रुपये की किताबें खाक, जानबूझकर आग लगाए जाने की आशंका

एलएस कॉलेज के पूर्व प्राचार्य के क्वार्टर में दूरस्थ शिक्षा निदेशालय की पुस्तकें दो साल पहले रखी गई थीं

पटना: बिहार के मुजफ्फरपुर में भीमराव अंबेडकर बिहार विश्वविद्यालय के दूरस्थ शिक्षा निदेशालय की 70 लाख रुपये की पुस्तकें जलकर खाक हो गईं. ये किताबें एलएस कॉलेज के क्वार्टर में रखी गई थी. ये किताबें स्नातक, पीजी, एमबीए, बीएड एवं वोकेशनल कोर्सों के छात्रों के लिए पिछले दो सालों से रखी गई थी. कॉलेज प्रशासन ने इस घटना में आग लगाए जाने का मामला दर्ज कराया है. निदेशालय के निदेशक डॉ. एके श्रीवास्तव ने मामले की शुरुआती छानबीन के बाद यह आशंका जताई. अभी कुछ दिन पहले राज्यपाल ने भीमराव अंबेडकर यूनिवर्सिटी की जांच का आदेश निगरानी को दिया था और जांच शुरू होने के बाद साक्ष्य नष्ट करने से भी इसे जोड़कर देखा जा रहा है.

यह भी पढ़ें : बीआरए बिहार यूनिवर्सिटी के कुलपति और रजिस्‍ट्रार के खिलाफ निगरानी जांच के आदेश

टिप्पणियां
एलएस कॉलेज के पूर्व प्राचार्य के क्वार्टर में दूरस्थ शिक्षा निदेशालय की पुस्तकें दो साल पहले रखी गई थीं. परिसर का मुख्य प्रवेश द्वार बंद रहता है. इस परिसर में कोई रहता भी नहीं है. अचानक पूर्व प्राचार्य आवास के क्वार्टर से धुआं निकलते देखा गया. इसके बाद अफरातफरी मच गई. विश्वविद्यालय थाना एवं अग्निशमन विभाग को इसकी जानकारी दी गई. सूचना के तुरंत बाद अग्निशमन विभाग की गाडिय़ां पहुंचकर आग बुझाने में जुट गई. यूनिवर्सिटी में इस बात की चर्चा है कि चूंकि निगरानी जांच शुरू है, ऐसे में साक्ष्य छुपाने के लिए घटना का अंजाम दिया गया है.

VIDEO : नकल करते पकड़ी गई छात्रा तो हॉस्टल में कर ली खुदकुशी निदेशालय के डायरेक्टर डॉ. एके श्रीवास्तव ने स्थानीय थाने में जानबूझकर आग लगाए जाने की लिखित शिकायत की है.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement