दो जिलों के इंटरमीडियट की परीक्षा का बीएसईबी डिजिटल मूल्यांकन कराएगी

दो जिलों के इंटरमीडियट की परीक्षा का बीएसईबी डिजिटल मूल्यांकन कराएगी

पटना:

बिहार विद्यालय परीक्षा समिति (बीएसईबी) पटना तथा वैशाली जिलों की इंटर वार्षिक परीक्षा 2017 की उतर पुस्तिकाओं का इस बार डिजिटल मूल्यांकन कराएगी. बीएसईबी के अध्यक्ष आनंद किशोर ने बताया कि पटना तथा वैशाली जिलों में परीक्षाथियों की संख्या काफी अधिक है. इसलिए इन जिलों की कॉपियों के डिजिटल मूल्यांकन करने का निर्णय समिति द्वारा लिया गया है. उल्लेखनीय है कि समिति द्वारा उतर पुस्तिकाओं का डिजिटल मूल्यांकन सफलतापूर्वक पूरक परीक्षा 2016 के दौरान किया जा चुका है. डिजिटल मूल्यांकन के तहत उतरपुस्तिकाओं के बार कोडिंग के उपरांत कापियों की स्कैनिंग की जाती है. इसके बाद सर्वर के माध्यम से सम्बन्धित मूल्यांकन केंद्र पर कंप्यूटर पर शिक्षकों द्वारा कापियां जांची जाती हैं.

इस वर्ष इंटरमीडियट वार्षिक परीक्षा के उपरांत डिजिटल मून्यांकन पद्धति को आगे के वर्षों में वृहद रूप से लागू करने पर विचार समिति द्वारा किया जायेगा. आनंद ने नवादा जिले के परीक्षा केंद्र सेठ सागरमल अग्रवाल महिला कॉलेज पर कदाचार के मामले के बारे में बताया कि समिति ने इसे गंभीरता से लिया है और उक्त परीक्षा केंद्र को विलोपित करने का निर्णय लिया गया है.

उन्होंने बताया सोमवार से इंटर वार्षिक परीक्षा में शामिल हो रहे इस कॉलेज के परीक्षार्थी सेठ सागरमल अग्रवाल महिला कॉलेज केंद्र की जगह अब नवादा जिला के सेंट जोसेफ स्कूल के आयोजित परीक्षा में सम्मिलित होंगे. उल्लेखनीय है कि गत 16 फरवरी को नवादा के इस परीक्षा केंद्र पर एक ही साथ 32 छात्राओं को कदाचार के कारण निष्कासित किया गया था. इस मामले के संज्ञान में आते ही अध्यक्ष द्वारा उस इस केंद्र पर गत 16 फरवरी की प्रथम पाली की परीक्षा रद्द कर दिया गया था.

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com