NDTV Khabar

नेपाल के रास्ते बिहार लाई जा रही थी चरस, कीमत है 8.70 करोड़ रुपये

एसएसबी के एक पुलिस अधिकारी ने सोमवार को बताया कि गुप्त सूचना मिली थी कि रात में मादक पदार्थो की एक बड़ी खेप नेपाल से बिहार की सीमा में पहुंचने वाली है.

6 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
नेपाल के रास्ते बिहार लाई जा रही थी चरस, कीमत है 8.70 करोड़ रुपये

प्रतीकात्मक तस्वीर

बेतिया: भारत-नेपाल सीमा पर बिहार के पश्चिमी चंपारण जिले के शिकारपुर थाना क्षेत्र से सशस्त्र सीमा बल (एसएसबी) के जवानों ने रविवार की देर रात एक कार से 58 किलोग्राम चरस बरामद किया. बरामद मादक पदार्थ की कीमत 8.70 करोड़ रुपये बताई जा रही है. एसएसबी के एक पुलिस अधिकारी ने सोमवार को बताया कि गुप्त सूचना मिली थी कि रात में मादक पदार्थो की एक बड़ी खेप नेपाल से बिहार की सीमा में पहुंचने वाली है. इसी सूचना के आधार पर एसएसबी के जवानों द्वारा कई स्थानों पर वाहनों की जांच की जा रही थी. 

एसएसबी 40वीं बटालियन के उप सेनानायक अजय कुमार रजक ने बताया कि इसी क्रम में भसुरारी गांव के पास पुलिस बल को देखकर तस्कर अपनी कार को छोड़कर फरार हो गए. उन्होंने बताया कि तलाशी के दौरान जब्त की गई इंडिका कार से 58 किलोग्राम चरस जब्त किया गया, जिसकी अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कीमत 8.70 करोड़ रुपये आंकी गई है.

उन्होंने बताया कि कार के मालिक के संबंध में जानकारी इकट्ठा की जा रही है.

मालूम हो कि बिहार में शराबबंदी लागू होने के बाद यहां नशे में प्रयोग होने वाले अन्य चीजों की खपत बढ़ गई है. हालांकि बिहार के अलग-अलग जिलों में शराब के पकड़े जाने का दौर भी जारी है. दो दिन पहले ही सारण जिले के सोनपुर थाना क्षेत्र के बाकरपुर गांव के निकट से पुलिस ने भारी मात्रा में विदेशी शराब बरामद किया था. पुलिस सूत्रों ने बताया कि सूचना मिली थी कि बाकरपुर गांव के निकट सडक़ किनारे भारी मात्रा में विदेशी शराब पड़ा हुआ है.

इसी आधार पर पुलिस ने कल देर रात सडक़ किनारे से 52 कार्टन विदेशी शराब बरामद किया. बरामद शराब की कीमत लगभग 20 लाख रुपए बतायी जाती है. शराब हरियाणा निर्मित है. सूत्रों ने बताया कि इस सिलसिले में बाकरपुर गांव समेत आस पास के ग्रामीणों से पूछताछ की जा रही है. वहीं राजरू के दूसरे जिले खगडिय़ा में मानसी थाना क्षेत्र के पटेल चौक के निकट से पुलिस ने आज शराब के धंधे में शामिल दो लोगों को गिरफ्तार किया है.

इनपुट: IANS
 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement