NDTV Khabar

सीएम नीतीश ने जताई इच्छा, कर्पूरी ठाकुर को केंद्र सरकार भारत रत्न से नवाजे

नीतीश ने अपनी तरफ से कर्पूरी ठाकुर के स्मारक स्थल को शोध संस्थान में परिवर्तित करने की घोषणा की.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
सीएम नीतीश ने जताई इच्छा, कर्पूरी ठाकुर को केंद्र सरकार भारत रत्न से नवाजे

सीएम नीतीश कुमार (फाइल फोटो)

पटना: बिहार में हर साल 24 जनवरी को राजनीतिक दलों में कर्पूरी ठाकुर जयंती मनाने की होड़ लगी रहती है. यहां तक की कुछ दल तो एक दिन पहले ही जयंती मना लेते हैं. उसके पीछे कारण यह है कि राज्य की अति पिछड़ी जातियों में अपनी पहचान और पैठ बनाने का यह आजकल नायाब राजनीतिक नुस्खा हो गया है. 

बुधवार को सरकारी और राजनीतिक दलो के तरफ से अलग-अलग कार्यक्रम हुए. निश्चित रूप से जनता दल यूनाइटेड के अति पिछड़ा प्रकोष्ठ का कार्यक्रम सबसे भव्य होता है. उसके पीछे वजह है कि आज की तारीख में अति पिछड़ी जातियों के समूह में अधिकांश जाति का इस दल के प्रति झुकाव है.

यह भी पढ़ें - बिहार में कुरीतियों के खिलाफ जागृति आ रही है : नीतीश कुमार

इसलिए अपने पार्टी के कार्यक्रम में जदयू यानी जनता दल यूनाइटेड अध्यक्ष और बिहार के सीएम नीतीश कुमार पहुंचे और अपने भाषण में बहुत कुछ ऐसा बोल गये जो उनकी सहयोगी पार्टी भाजपा को रास नहीं आ सकती है. नीतीश ने अपने भाषण में कहा कि जब 1977 के बाद पहली बार कर्पूरी ठाकुर की सरकार ने राज्य में आरक्षण लागू किया तो उन्हें सता से हाथ धोना पड़ा. ये सब जानते हैं कि उस समय संघ के लोगों के द्वारा समर्थन वापसी के की वजह से कर्पूरी ठाकुर की सरकार गिरी थी.  

नीतीश ने अपनी तरफ़ से कर्पूरी ठाकुर के स्मारक स्थल को शोध संस्थान में परिवर्तित करने की घोषणा की. साथ ही यह भी कहा कि बिहार सरकार जल्द ही केंद्र सरकार से कर्पूरी ठाकुर को भारत रत्न देने के प्रस्ताव को दोबारा भेजेगी. जिसे केंद्र को अब स्वीकार करना चाहिए. 

टिप्पणियां
यह भी पढ़ें - नीतीश कुमार ने इशारों-इशारों में लालू यादव और तेजस्वी पर साधा निशाना

लेकिन साथ-साथ नीतीश ने केंद्र सरकार से कर्पूरी ठाकुर द्वारा लागू किए गये आरक्षण को पूरे देश में लागू करने की मांग की, जिसमें आरक्षण का अधिकांश हिस्सा अति पिछड़ी जातियों के लिए आरक्षित किया गया था. इस फॉर्मूला में अगरी जातियों के गरीब और महिलाओं के लिए अलग से आरक्षण की व्यवस्था की गई थी.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement