NDTV Khabar

सीएम नीतीश के वादे लगते थे लोकलुभावन, लेकिन सही हुए साबित :सुशील मोदी

बिहार के उप मुख्यमंत्री सुशील मोदी ने माना कि बिजली के बारे में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के संकल्प पर उन्हें भी विश्वास नहीं होता था

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
सीएम नीतीश के वादे लगते थे लोकलुभावन, लेकिन सही हुए साबित :सुशील मोदी

सुशील मोदी और नीतीश कुमार (फाइल फोटो).

खास बातें

  1. सीएम, ऊर्जा मंत्री विजेंदर यादव, ऊर्जा विभाग के अधिकारियों को धन्यवाद कहा
  2. कहा, अब बिजली के क्षेत्र में सुधार के कारण लोग लालटेन भूल गए हैं
  3. पहले बिजली की मांग लेकर आंदोलन धरना एक आम बात थी
पटना: बिहार के उप मुख्यमंत्री सुशील मोदी ने शुक्रवार को माना कि उन्हें मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के बिजली में सुधार और हर घर बिजली जैसे वादों और दावों पर विश्वास नहीं होता था. मोदी ने एक कार्यक्रम में नीतीश कुमार के सामने माना कि उन्हें लगता था कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जल्दबाज़ी में लोकलुभावन वादे कर रहे हैं.

मोदी ने असंभव को संभव करने के लिए मुख्यमंत्री, ऊर्जा मंत्री विजेंदर यादव और ऊर्जा विभाग के अधिकारियों को धन्यवाद कहा. सुशील मोदी का ये बयान काफ़ी मायने रखता है क्योंकि वो जब तक विपक्ष में रहे तब तक बिजली के सम्बंध में मुखर आलोचक रहे. पिछले विधानसभा चुनाव में भाजपा ने इसे एक मुद्दा भी बनाया था लेकिन चुनाव परिणाम के बाद पार्टी ने माना कि आम जनता बिजली के सम्बंध में सुधार से संतुष्ट है.

यह भी पढ़ें :सुशील मोदी ने तेजस्वी यादव को फिर बनाया निशाना, पूछा- बेनामी संपत्ति किसकी?

सुशील मोदी ने अपने भाषण में बिना नाम लिए राजद और लालू यादव पर भी ये कहकर निशाना साधा कि कुछ लोगों को लगता था कि राज्य में लालटेन युग है और रहेगा, लेकिन अब बिजली के क्षेत्र में सुधार के कारण लोग लालटेन भूल गए हैं. मोदी ने कहा कि पहले बिजली राजधानी पटना में भी मुश्किल से मिलती थी लेकिन अब जाती नहीं.

टिप्पणियां
VIDEO : लालू के परिवार पर हमलावर सुशील मोदी

यह कार्यक्रम बिहार बिजली बोर्ड के परिसर में आयोजित किया गया था. सुशील मोदी ने अपना संस्मरण बताया कि जब वे पहली बार विधायक चुने गए तब बिजली बोर्ड के अध्यक्ष से मिलने आए थे लेकिन उनसे बहस होने के कारण दो दिनों तक धरने पर बैठे रहे. इसके अलावा उन्होंने कहा कि बिजली की मांग लेकर पहले आंदोलन धरना एक आम बात थी जो अब पूर्व की बात हो गई है.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement