NDTV Khabar

बिहार में बारिश का सितम जारी: अस्पतालों में घुसा पानी, NDRF की कई टीमें राहत बचाव कार्य में जुटीं, अभी तक 27 की मौत

पटना के खगौल थाना अंतर्गत दानापुर रेलवे स्टेशन के पूर्वी गेट के पास भारी बारिश के कारण सड़क किनारे एक पेड़ आटोरिक्शा पर गिर गया जिससे उसमें सवार डेढ़ साल की एक बच्ची और तीन महिलाओं की मौत हो गई.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
बिहार में बारिश का सितम जारी: अस्पतालों में घुसा पानी, NDRF की कई टीमें राहत बचाव कार्य में जुटीं, अभी तक 27 की मौत

पटना में बारिश से बिगड़े हालात

खास बातें

  1. पटना के कई इलाकों में भरा पानी
  2. कई अस्पतालों में भी घुसा बारिश का पानी
  3. एनडीआरएफ की कई टीमें राहत बचाव कार्य में लगी
नई दिल्ली:

बिहार में बीते तीन दिनों से हो रही बारिश ने आम लोगों की परेशानी बढ़ा दी है. जगह-जगह हुए जलजमाव की वजह से यातायात पर भी असर पड़ा है. राजधानी पटना सहित राज्य के विभिन्न हिस्सों में वर्षा जनित घटनाओं में 27 लोगों की मौत हो गयी जबकि एक अन्य व्यक्ति जख्मी हो गया. पटना शहर के खगौल थाना अंतर्गत दानापुर रेलवे स्टेशन के पूर्वी गेट के पास भारी बारिश के कारण सड़क किनारे एक पेड़ आटोरिक्शा पर गिर गया जिससे उसमें सवार डेढ़ साल की एक बच्ची और तीन महिलाओं की मौत हो गई. खगौल थानाध्यक्ष ने बताया कि शवों को पोस्टमार्टम के लिए अस्पताल भेज दिया गया है. वहीं, भागलपुर जिले के बरारी थानाक्षेत्र में भारी बारिश के कारण अलग अलग अलग स्थानों पर दीवार गिरने से मलबे के नीचे दबकर छह लोगों की मौत हो गई जबकि एक अन्य व्यक्ति जख्मी हो गया. भागलपुर के जिलाधिकारी प्रणव कुमार ने बताया कि भारी बारिश के कारण बरारी थानाक्षेत्र स्थित हनुमान मंदिर की चहारदीवारी के अचानक गिर जाने से तीन लोगों की मौत हो गई जबकि एक अन्य व्यक्ति जख्मी हो गया.

देश भर में भारी बारिश के कारण 4 दिनों में करीब 110 लोगों की मौत, लाखों लोगों का जनजीवन अस्त-व्यस्त


उन्होंने बताया कि भारी बारिश के कारण बरारी थाना अंतर्गत खंजरपुर इलाके में एक मकान की दीवार गिरने से तीन लोगों की मौत हो गई. मृतकों में पांच पुरुष और एक महिला शामिल है. उन्होंने बताया कि शवों को पोस्टमार्टम के लिए और घायलों को इलाज के लिए जवाहरलाल नेहरू मेडिकल कॉलेज अस्पताल भेज दिया गया है. कैमूर जिले में लगातार तीन दिनों की बारिश होने से जिले में दो जगहों पर मिट्टी के घर की दीवार गिरने से तीन लोगों की मौत हो गई. कैमूर के जिलाधिकारी नवल किशोर चौधरी ने बताया कि जिला मुख्यालय भभुआ के वार्ड संख्या 7 में सबरी नगर मोहल्ले में मिट्टी के घर की दीवार गिरने से 62 वर्षीय मुखिया देवी और उनकी 12 वर्षीय नतिनी सविता कुमारी की मौत हो गई. अन्य घटना में भभुआ थाना अंतर्गत डुमरैथ गांव में मिट्टी के घर की दीवार गिरने से छह वर्षीय शिवम की मौत हो गई.

बिहार : उपमुख्यमंत्री सहित 2 पूर्व मुख्यमंत्रियों के घरों में घुसा पानी

बता दें कि बिहार के अलग-अलग जिलों में भारी बारिश के कारण आज भी सड़क, रेल और हवाई यातायात प्रभावित रहा. पटना हवाई अड्डे से प्राप्त जानकारी के मुताबिक खराब मौसम के कारण मुंबई-पटना गो एयर की उड़ान संख्या जी8-585 को लखनऊ व दिल्ली-पटना एसजी 8480 को वाराणसी डाइवर्ट कर दिया गया. पटना एवं उसके आसपास भारी बारिश के कारण रेल पटरी एवं रेल पुलों के निकट भारी जलजमाव हो गया है. इसके फलस्वरूप यात्रियों की सुरक्षा के मद्देनजर कुछ ट्रेनों के परिचालन में अस्थाई बदलाव किया गया है. पूर्व मध्य रेलवे के मुख्य जनसम्पर्क अधिकारी राजेश कुमार ने बताया कि पटना जंक्शन के आसपास जल जमाव से उत्पन्न स्थिति के मद्देनज़र यात्रियों को पटना जंक्शन पहुँचने में हो रही असुविधा को ध्यान में रखते हुए निर्णय लिया गया है कि वे सभी ट्रेनें जिनका पटना जंक्शन पर ठहराव है उन सभी ट्रेनों का दानापुर जंक्शन पर भी तत्काल प्रभाव से ठहराव दिया जाए.

Updates: बिहार में बाढ़ के हालात पर बोले सीएम नीतीश कुमार- इस तरह की स्थिति किसी के हाथ में नहीं, यह प्राकृतिक है

उन्होंने कहा कि यह आदेश दिनांक 30 सितंबर के दोपहर 12:00 बजे तक इस मार्ग से गुजरने वाली सभी रेल गाड़ियों पर लागू होगा. दानापुर मंडल के विभिन्न क्षेत्रों में भारी बारिश के कारण पटना जंक्शन पर जलस्तर में वृद्धि के कारण सात ट्रेनों को रद्द कर दिया गया है व आठ ट्रेनों का विभिन्न रेलवे स्टेशनों पर आंशिक समापन किया गया है. ये ट्रेने उन्हीं स्टेशनों से प्रस्थान भी करेंगी. मौसम विभाग के अनुसार शनिवार की सुबह 8.30 बजे से रविवार की सुबह 8.30 बजे तक बिहार के रोसडा में 29 सेमी, बिहपुर और कोईलवर में 21-21 सेमी, बसुआ में 20 सेमी, हसनुपर में 17 सेमी, साहेबपुर कमाल में 16 सेमी, पटना शहर और चेरिया बरियारपुर में 15—15 सेमी, झंझारपुर एवं खगडिया में 14—14 सेमी, मुंगेर, भभुआ एवं मधेपुरा 13—13 सेमी, भागलपुर और बोधगया में 12—12 सेमी बारिश रिकार्ड की गयी । पटना, गया, भागलपुर और पूर्णिया में आज सुबह 8.30 बजे से शाम 5.30 बजे तक 75.4 मिलीमीटर, 13.8 मिलीमीटर, 32.4 मिलीमीटर और 67.0 मिलीमीटर वर्षा रिकार्ड की गयी. अगले चौबीस घंटे के मौसम पुर्वानुमान में आमतौर पर बादल छाए रहने के साथ गरज के साथ भारी बारिश की संभावना जतायी गयी है. 

VIDEO: पटना में बारिश से बिगड़े हालात.

टिप्पणियां



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement