NDTV Khabar

बिहार विधानसभा उपचुनावों के नतीजों पर बोले सुशील मोदी, अब गहन समीक्षा की जरूरत

बिहार विधानसभा उपचुनावों के 5 सीटों का परिणाम न केवल मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के लिए चौंकाने वाले हैं बल्कि एनडीए के लिए भी झटका माना जा रहा है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
बिहार विधानसभा उपचुनावों के नतीजों पर बोले सुशील मोदी, अब गहन समीक्षा की जरूरत

सुशील मोदी ने माना कि लोकतंत्र में जनता का फैसला सबसे ऊपर है

पटना:

बिहार विधानसभा उपचुनावों के 5 सीटों का परिणाम न केवल मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के लिए चौंकाने वाले हैं बल्कि एनडीए के लिए भी झटका माना जा रहा है. इस चुनाव परिणाम पर उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी ने ये कह कर संतोष दिलाने की कोशिश की बिहार विधानसभा की 5 सीटों पर हुए उपचुनाव में कांग्रेस का खाता नहीं खुला. सुशील मोदी के अनुसार दरौंदा में एनडीए के विद्रोही प्रत्याशी ने जीत पाई जबकि वहां राजद तीसरे स्थान पर रहा. नाथनगर में एनडीए का उम्मीदवार जीता. समस्तीपुर लोकसभा सीट जीत कर तो हमने संसदीय चुनाव की सफलता दोहराई. 

बिहार में उपचुनाव के नतीजे सीएम नीतीश कुमार के लिए कड़ा संदेश, ओवैसी की पार्टी ने खोला खाता

इसके बाद सुशील मोदी ने माना कि लोकतंत्र में जनता का फैसला सबसे ऊपर है, इसलिए इसकी गहन समीक्षा की जाएगी, और जो कमी रह गई है, उसे जल्द ही दूर कर लिया जाएगा. हालांकि सुशील मोदी का कहना था कि साल 2009 में बिहार की पहली एनडीए सरकार के समय विधानसभा की 18 सीटों पर हुए उपचुनाव में दो तिहाई सीटों पर विरोधी दलों के उम्मीदवार जीते थे, लेकिन साल भर बाद 2010 में जब आम चुनाव हुआ, तब एनडीए ने तीन चौथाई बहुमत के साथ सरकार में वापसी की थी. वह शानदार जीत ऐसी थी कि कई चुनाव-पूर्व अनुमान धराशायी हो गए थे. 


नीतीश ने फिर 'प्रचार-प्रसार करने वाले मुख्यमंत्री' पर साधा निशाना, कहा - आप सरकारी ख़ज़ाने के ट्रस्टी हैं ना कि मालिक

टिप्पणियां

मोदी के अनुसार संसदीय राजनीति में  उपचुनाव इतने स्थानीय मुद्दों पर होते हैं कि इनके परिणाम न मुख्य चुनाव को प्रभावित करते हैं, न कोई विश्वसनीय संकेत साबित होते हैं. उन्होंने कहा कि हमें पूरा भरोसा है कि एनडीए 2020 में 2010 की सफलता दोहराएगा.  

Video: पटना मेडिकल कॉलेज में केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे के चेहरे पर फेंकी गई स्याही



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement