Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

अश्विनी चौबे के बेटे अर्जित शाश्वत की नीतीश कुमार को खुली चुनौती, कहा- आपके FIR को कूड़ेदान में फेंकता हूँ

शाश्वत माना कि भागलपुर में जो शोभा यात्रा उन्होंने निकाली थी उसे पुलिस की अनुमति नहीं थी. लेकिन इस बात पर उन्होंने पुलिस से पूछा कि आख़िर तब भी उनके शोभा यात्रा में पुलिस तैनाती क्यों की गई थी.

अश्विनी चौबे के बेटे अर्जित शाश्वत की नीतीश कुमार को खुली चुनौती, कहा- आपके FIR को कूड़ेदान में फेंकता हूँ

अश्विनी चौबे की फाइल फोटो

पटना:

केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे के बेटे अर्जित शाश्वत ने बिहार के सीएम को लेकर विवादित टिप्पणी की है. शाश्वत ने नीतीश कुमार को खुले आम चुनौती देते हुए कहा कि वह कोई अपराधी नहीं है. और मैनें ऐसा कोई अपराध नहीं किया है जिसके लिए मुझे भागना पड़े. गौरतलब है कि भागलपुर पुलिस शाश्वत की तलाश कर रही है. शाश्वत पर आरोप है कि उसने अपने कुछ लोगों के साथ मिलकर शहर में दंगा भड़काया है. शाश्वत ने अपने ऊपर हुए एफआईआर को लेकर पटना में एक संवाददाता सम्मेलन बुलाया. इस दौरान उन्होंने कहा कि उनके खिलाफ जो एफआईआईर हुई है वह उसे रद्दी का टुकड़ा मानते हैं. उन्होंने कहा कि मैं इस एफआईआर को कूड़े में फेंकता हूं.

यह भी पढ़ें: केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे ने कहा, 'आरोप साबित होगा तो राजनीति से संन्यास ले लूंगा'

हालांकि इस दौरान उन्होंने माना कि भागलपुर में जो शोभा यात्रा उन्होंने निकाली थी उसे पुलिस की अनुमति नहीं थी. लेकिन इस बात पर उन्होंने पुलिस से पूछा कि आख़िर तब भी उनके शोभा यात्रा में पुलिस तैनाती क्यों की गई थी. संवाददाताओं को संबोधित करते हुए शाश्वत ने इस पूरे मुद्दे पर मुख्य मंत्री नीतीश कुमार के कड़े रूख का विरोध कियाय. उन्होंने कहा कि अगर भारत माता की जय कहना अपराध हैं तो मैं अपराधी हूं. शाश्वत ने इस पूरे मामले के प्रकाश में आने के बाद भागलपुर के पुलिस अधिकारियों हटाने की भी मांग की.

VIDEO: गरीबों पर हो रहे हैं जुल्म.

गौरतलब है कि शाश्वत भागलपुर से भाजपा टिकट पर पिछले विधान सभा का चुनाव हार चुके हैं . माना जा रहा हैं कि इस मुद्दे पर उन्हें  केवल उनके पिता केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे का समर्थन मिल रहा हैं. जबकि पार्टी के अधिकांश नेता उन्हें अपने रूख पर क़ायम रहने की सलाह दे चूके हैं.