NDTV Khabar

बिहार की राजनीति में बयानबाजी के जरिए हमला किस हद तक...

बिहार के सत्तारूढ़ दल के नेता श्मशान की बात कर रहे हैं तो वहीं विपक्ष के नेता लालू प्रसाद यादव समाधि बनाने की बात बोल रहे हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
बिहार की राजनीति में बयानबाजी के जरिए हमला किस हद तक...

आरजेडी प्रमुख लालू प्रसाद यादव.

खास बातें

  1. बिहार में राजनीतिक हमलों का दौर जारी है
  2. आरजेडी और जेडीयू के नेताओं में जुबानी जंग
  3. एक दूसरे पर हो रहे तीखे हमले
पटना: बिहार की राजनीति में मर्यादा दिन प्रतिदिन समाप्त होती जा रही है. बिहार के दो प्रमुख दलों में डर्टी पॉलिटिक्स की शुरुआत तो हो ही गई है मगर इस राजनीतिक लड़ाई की बयानबाजी कहां तक जाएगी यह समझ पाना अभी किसी के लिए संभव नहीं है. बिहार के सत्तारूढ़ दल के नेता श्मशान की बात कर रहे हैं तो वहीं विपक्ष के नेता लालू प्रसाद यादव समाधि बनाने की बात बोल रहे हैं. सत्तारूढ़ दल जेडीयू और प्रमुख विपक्षी दल आरजेडी के नेता आजकल एक-दूसरे का चरित्र-हनन कर रहे हैं. दोनों पार्टी के बड़े नेताओं के निजी मामले को भी मीडिया में उधेड़ा जा रहा है. राजद और जदयू की जुबानी लड़ाई खूब सुर्खियां भी बटोर रही हैं. मगर ये लड़ाई अब श्मशान से समाधि तक पहुँच गई है. 

बिहार की सियासत इन दिनों काफी गरम है. लालू प्रसाद ने नीतीश कुमार के राजगीर दौरे पर बड़ा ही कड़ा बयान दिया है. उन्होंने कहा कि सीएम नीतीश कुमार की समाधि भी राजगीर में ही बन जाएगी. ये बातें लालू प्रसाद यादव ने स्वर्गीय मुंद्रिका यादव के कार्यक्रम में जाने से पहले पत्रकारों से बातचीत में कहीं. 

यह भी पढ़ें : बिहार में 'डर्टी पिक्चर' के बाद लालू प्रसाद का शौचालय घोटाले पर 'डर्टी सवाल'

दरअसल, नीतीश कुमार राजगीर दौरे पर थे. नीतीश राजगीर में एक दिवसीय यात्रा पर गए थे. इसी पर पूछे गए सवालों पर गुस्साये लालू प्रसाद ने कहा कि नीतीश कुमार राजगीर के अलावा और कहाँ जाएंगे, वहीं उनकी समाधि बन जाएगी.

यह भी पढ़ें : हामिद अंसारी ने नीतीश पर साधा निशाना, कहा- कल तक जो प्रेमी थे आज बागी हो गए

ठीक इसके बाद गुस्साए जदयू के मुख्य प्रवक्ता व एमएलसी संजय सिंह ने कहा कि लालू प्रसाद आपकी समाधि जेल में बनेगी. संजय यहां रुके नहीं और ताबड़तोड़ हमला करते हुए कहा कि किसकी समाधि कहां बनेगी, ये तो आने वाला वक्त बताएगा. लेकिन, आपकी समाधि कहां बनेगी, ये आप बखूबी जानते हैं. आप जानते हैं कि आपकी जिंदगी का अंतिम वक्त जेल में गुजरेगा. वहीं आपकी समाधि बनेगी, जहां एक आदमी भी आपकी समाधि पर फूल चढ़ाने वाला नहीं मिलेगा. आपकी कुंडली से जेल यात्रा नहीं मिटने वाली है. हर हाल में जेल जाना ही होगा और वो भी पूरे परिवार के साथ. अंत में लालू प्रसाद को अपनी सलाह देते हुए सिंह ने कहा कि राजनीति छोड़कर काशी चले जाएं. हिन्दू धर्म में अंतिम जगह वहीं है. 

VIDEO: लालू यादव पर कसता शिकंजा

गौरतलब है कि पिछले दिनों जेडीयू के प्रवक्ताओं द्वारा लालू के बेटे पर हमला करते हुए संजय सिंह एवं नीरज कुमार ने लालू प्रसाद पर भी तीखी बयानबाजी करते हुए कहा था कि हमारे नेता नीतीश कुमार के चरित्र पर दाग लगाने की कोशिश की जा रही है. उन्होंने कहा था कि ऐसे में हम लोग लालू प्रसाद को राजनीति के श्मशान तक छोड़ने वाले नहीं हैं.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement